नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। गर्मियों के मौसम में CNG गाड़ी का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को अधिक सतर्क रहना चाहिए। अन्य वाहनों की तरह सीएनजी वाहनों का रखरखाव और ठीक से देखभाल की जाए तो वे लंबे समय तक चल सकते हैं। इसलिए यदि आप एक CNG वाहन के मालिक हैं तो नीचे बताए गए इन आसान उपायों का पालन करें।

CNG किट की सर्विसिंग : कार की तरह ही उसमें फिट सीएनजी किट की सर्विस भी अनिवार्य है। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि आपने सीएनजी किट बाहर से लगवाई है या कंपनी ने से फिट करवाई है। समय-समय पर उसकी जांच और सर्विसिंग बेहद जरूरी है। समय से सर्विस करवाने से कार के माइलेज में भी सुधार होता है समय पर सर्विस करवाने से आप आने वाले समय में होने वाले नुकसान से भी बच सकते हैं। गाड़ी की समय से सर्विस करवाने से उसके इंजन और गैस किट दोनों मेंटेन रहती हैं और कार का माइलेज भी शानदार निकलता है।

लीकेज की जांच : कई बार होता ये है कि जब आप किसी लोकट मैकेनिक से CNG किट फिट करवाते हैं, तो इससे गाड़ी पर काफी बुरा असर पड़ता है। कई बार CNG किट पुरानी हो जाती है या लोकल पार्ट्स खराब होने की वजह से सिलेंडर से जुड़ने वाले पाइप में लीकेज की परेशानी होने लगती है। जिस वजह से काफी गैस बर्बाद होने की संभावना रहती है और कार का माइलेज भी खराब हो सकता है। इसलिए कार से बढ़िया माइलेज लेने के लिए आपको समय-समय पर अपनी कार के सीएनजी सिलेंडर की लीकेज की जांच करवा लेनी चाहिए। यह सिर्फ न कार का माइलेज बढ़ाने के काम आएगा बल्कि इससे आप किसी तरह की दुर्घटना का शिकार होने से भी बच सकते हैं।

चेक करें एक्सपाइयरी डेट

सीएनजी सिलेंडर की अपनी एक लाइफ होती है। जिसका हमेशा ख्याल रखना चाहिए। दरअसल सरकार की ओर से एक सीएनजी सिलेंडर की औसत लाइफ 15 साल निर्धारित की गई है। आमतौर पर इतनी ही लाइफ एक कार की मानी जाती है। लेकिन अगर आप लंबे वक्त तक कार चलाते हैं, तो सीएनजी कार के सिलेंडर को जरूर रिप्लेस करवा लें, वरना आपको नुकसान उठा सकते हैं।

Edited By: Atul Yadav