नई दिल्ली, अनिर्बान मित्रा: चेक की वाहन निर्माता कंपनी स्कोडा ने भारत में हाल ही में अपनी बहुप्रतिक्षित सेडान स्लाविया को पेश किया है। माना जा रहा था कि स्कोडा स्लाविया कंपनी की मौजूदा रैपिड के प्रतिस्थापन के रूप में पेश ​की जाएगी। हालांकि, ऑटोमेकर ने साफ कर दिया है कि यह स्कोडा रैपिड के रिप्लेसमेंट के रूप में नहीं होगी। Skoda Auto India को उम्मीद है कि उनकी आगामी सेडान Slavia अपनी प्रमुख प्रतिद्वंदी Honda City के C-सेगमेंट के डोमिनेशन को परेशान करेगी और एक महीने में 3,000 यूनिट तक की बिक्री करेगी।

क्या कहते हैं Zac Hollis

Skoda Auto ने नवंबर में वैश्विक स्तर पर Slavia सेडान का प्रीमियर किया, जिसे कंपनी 2022 की पहली क्वार्टर में बिक्री शुरू करेग। Slavia बाजार में Rapid की जगह आएगी और यह कार VW Group की इंडिया 2.0 परियोजना के तहत तीसरा उत्पाद है। Skoda India के ब्रांड डायरेक्टर Zac Hollis ने सेडान को वाहनों के मरने वाले वर्ग के रूप (dying class) में खारिज कर दिया। Hollis ने कहा, "बाजार में नई सेडान की कमी है जो रोमांचक हैं और ग्राहकों की अपेक्षाओं को पूरा करती हैं। Kushaq यहां ब्रांड के लिए एक गेम-चेंजर रहा है और Slavia के साथ, हमें प्रतिमाह 3,000 यूनिट्स की बिक्री का भरोसा है।"

Kushaq और Slavia के इंजन विकल्पों से लेकर प्लेटफॉर्म तक बहुत कुछ साझा करते हैं। प्रमुख मैकेनिकल हाइलाइट्स में, स्लाविया C-सेडान के बीच सबसे चौड़ी सेडान है, सेगमेंट का सबसे शक्तिशाली 1.5 (TSI) पेट्रोल इंजन प्रदान करता है और इसमें 521 लीटर का बूट स्पेस है। Slavia, Kushaq की तरह, भारत में 95% लोकलीसेड है। नई पीढ़ी के Octavia (CKD) की कीमत फेज्ड आउट मॉडल की तुलना में काफी अधिक है। Hollis ने कहा कि Slavia उन ग्राहकों को आकर्षित करेगी जो एक आधुनिक और मजेदार सेडान चाहते हैं। 

स्लाविया की कीमत 10-15 लाख रुपये की रेंज में होने की उम्मीद है।

 

Edited By: Bhavana