नई दिल्ली (जेएनएन)। अगर आप एक नई कार खरीदने की योजना बना रहे हैं तो यहां हम आपको कुछ ऐसे फीचर्स के बारे में बता रहे हैं जो आपकी नई कार में अगर होंगे तो आपकी कार न केवल स्मार्ट होगी बल्कि आपको ड्राइव करते समय कोई असुविधा भी नहीं होगी। आइये जानते हैं इन फीचर्स के बारे में।

1. ब्लूटूथ वाला इंफोटेंमेंट सिस्टम
एक कार म्यूजिक सिस्टम बेहद जरूरी होता है, आज कल तो लगभग हर कार के साथ स्टीरियो सिस्टम के साथ ब्लूटूथ, ऑक्स और यूएसबी कनेक्टिविटी फंक्शन जैसे फीचर्स आने लगे हैं। म्यूजिक सिस्टम सिर्फ गानें सुनने तक ही सिमित नहीं रह गया है बल्कि यह अब इंफोटेंमेंट सिस्टम में बदल चुका है क्योकिं इसमें कार के दूसरे फंक्शनों की जानकारी के अलावा फोन को कनेक्ट करने की सुविधा भी मिलती है साथ ही । कई सिस्टम सिस्टम भी बड़े काम का फीचर है। इसलिए कार लेने से पहले इस पर जरूर नजर डालें।

2. एयरबैग-ABS
हर कार में सेफ्टी बेहद जरूरी है, और अब तो अगले साल अप्रैल से सरकार नई कारों के लिए नए सेफ्टी नॉर्म्स लागू करने जा रही है जिसमें कारों में सेफ्टी फीचर्स जरूरी होंगे। लेकिन अगर आप अभी कोई कार खरीदने जा रहे हैं तो एयरबैग और एयरबैग जिसे सेफ्टी फीचर को जरूर चेक कर लें क्योकिं एबीएस तेज़ रफ्तार में इमरजेंसी ब्रेकिंग के दौरान कार को आपके कंट्रोल में रखता है और उसे फिसलने नहीं देता है।इससे हादसा होने की संभावना कम हो जाती हैं। जबकि एयरबैग गंभीर हादसों की स्थिति में ड्राइवर और पैसेंजर को जानलेवा चोट से बचाता है।

3. रियर पार्किंग सेंसर कैमरे के साथ
भीड़भाड़ या छोटी जगहों पर कार पार्किंग एक बड़ी समस्या है। ऐसे में रियर पार्किंग सेंसर या फिर कैमरा आपके लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है। यह फीचर आपको कार पार्क करते समय कार के पीछे की स्थिति से अवगत कराता रहता है।जब कोई चीज कार के नजदीक आ जाती है तो यह वार्निंग देकर आपको सतर्क कर देता है। इस प्रकार रियर पार्किंग सेंसर/कैमरा की मदद से आप कार को बिना किसी तनाव के आसानी से पार्किंग में खड़ा कर सकते हैं।


4. सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम
सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम भी एक तरह का सेफ्टी फीचर है, जो आपकी मेहनत की कमाई से खरीदी गई कार को चोरी या छेड़छाड़ की आशंकाओं से बचाता है। सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम कार चोरी होने की संभावना को काफी कम कर देता है। यह ड्राइविंग के दौरान यह सिस्टम चारों दरवाजों को लॉक भी कर देता है।

5. पावर विंडो
आज के दौरा में पावर विंडो कॉमन फीचर हो गया है। ज्यादातर कारों में आगे की विंडो के लिए यह फीचर स्टैंडर्ड तौर पर मिलने लगा है। सिर्फ आराम ही नहीं बल्कि कार और पैसेंजर की सुरक्षा की दृष्टि से भी यह अहम फीचर है। कोशिश करें कि आपकी कार में आगे और पीछे दोनों तरफ पावर विंडो की सुविधा आपको मिल जाए। वैसे बाहर से भी आप पावर विंडो सिस्टम लगवा सकते हैं।

 

6. ORVM
कार में बाहर की तरफ लगे शीशों को आउटसाइड रियर व्यू मिरर (ORVM) या फिर विंग मिरर भी कहा जाता है। सुरक्षित और स्मूद ड्राइविंग में इनकी अहम भूमिका होती है। आज अधिकांश कारों में यह स्टैंडर्ड फीचर के तौर पर मौजूद है। लेकिन कई कंपनियां ऐसी भी है जो बेस वेरिएंट में सिर्फ ड्राइवर साइड में ही एडजस्टेबल विंग मिरर दे रही हैं। ऐसे में आप इसके लिए ट्राइ कर सकते हैं।

 

By Bani Kalra