तेज़ रफ़्तार जिंदगी और बढ़ती जनसंख्या सभी उम्र वर्गों के लोगों में स्वास्थ्य समस्याओं को भी बढ़ावा दे रही है जैसे उच्च रक्तचाप, हृदय रोग, मधुमेह आदि। महंगी चिकित्सा सेवाओं के बीच छोटी-सी भी परेशानी के लिए अस्पताल जाना आपकी बचत पर भारी पड़ सकता है।

इसलिए, ये ज़रूरी हो गया है कि आप खुद को और अपने परिवार को बीमारियों और बढ़ती चिकित्सा सेवाओं और दवाओं के खर्च से भी बचाएं।

वर्तमान परिस्थिति में, एक अच्छी हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपकी बचत को बहने से बचा सकती है और आपको बेहतर चिकित्सा सुविधाएं और इलाज में मददगार साबित हो सकती है।

विशेषज्ञों का कहना है कि जितनी जल्दी एक व्यक्ति हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी ले उतना ही बेहतर होता है क्योंकि तब प्रीमियम कम होते हैं और फैमिली फ्लोटर हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के मामले में एक प्रीमियम आपको, आपके जीवनसाथी, बच्चों और आपके माता-पिता को कवर कर सकता है। ये एक बेहद ही किफायती फैसला है, जो टैक्स बचत विकल्पों के साथ भी आता है।

मार्किट में इस तरह की पॉलिसी कई आकर्षक ऑफ़र्स के साथ आ रही हैं। हालांकि, आपको तुलना करके ही अपने परिवार के लिए बेहतर पॉलिसी चुननी चाहिए। आइये देखते हैं कि आपको फैमिली फ्लोटर हैल्थ इंश्योरेंस खरीदने से पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

बीमा राशि : अपनी बीमा राशि जल्दबाज़ी में न चुनें। अपने परिवार की ज़रूरतों को देखते हुए ही बीमा राशि का चयन करें। नेशनल इंश्योरेंस कंपनी की नेशनल परिवार मेडिक्लेम पॉलिसी में बीमा राशि के विकल्पों की शुरुआत 1 लाख रुपए से 10 लाख रुपए तक है (पूरे परिवार के लिए एक ही बीमा राशि)। पॉलिसी का नवीनीकरण 1 साल के न्यूनतम और 3 साल के अधिकतम पॉलिसी पीरियड के साथ आजीवन है।

व्यय कवर : जब आप फैमिली फ्लोटर पॉलिसी की ऑनलाइन तुलना करें, तो जांच लें कि हॉस्पिटलाइज़ेशन का खर्च और एलोपैथी, आयुर्वेद, होम्योपैथी के अंतर्गत ईलाज पूरी बीमा राशि तक कवर हो। नेशनल इंश्योरेंस कंपनी जैसी इंश्योरेंस कंपनियां उपरोक्त ईलाज को पूरी बीमा राशि तक कवर करती हैं और डोमिसाइलरी ट्रीटमेंट भी 20 प्रतिशत बीमा राशि तक कवर करती हैं। साथ ही अंगदाता का प्री और पोस्ट हॉस्पिटलाइज़ेशन व्यय भी कवर होता है।

अतिरिक्त फायदे : हमेशा ये देखें कि आपकी हैल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आपको क्या अतिरिक्त फायदे दे रही है। कंपनियां पॉलिसी में नई विशेषताएं जोड़ती हैं और घटाती भी हैं। नेशनल इंश्योरेंस कंपनी ने अपनी नेशनल परिवार मेडिक्लेम पॉलिसी में कई नई विशेषताएं जोड़ी हैं जैसे मेटर्निटी, नवजात के जन्म के लिए बीमा राशि के 10 प्रतिशत तक कवर, infertility के इलाज के लिए 50,000 रुपए तक का कवर, 88 मुख्य बीमारियों में सेकेंड मेडिकल ऑपिनियन, क्षेत्र के हिसाब से रेटिंग के साथ छूट, एम्बुलेंस का व्यय आदि। ये पॉलिसी 5 दिन में 300 रुपए (प्रति बीमाधारक, प्रति दिन) के हॉस्पिटल कैश के फायदे के साथ आती है। इसमें 5,000 रुपए की एंटी-रैबीज़ वैक्सिनेशन भी कवर होती है।

पॉलिसी के अंतर्गत कवर की गई बीमारियां :  
आपको ये देखना होगा कि आपकी फैमिली पॉलिसी कवर में कितनी बीमारियां कवर हो रही हैं। अगर आपके माता-पिता इस पॉलिसी में कवर हैं, तो जानकारी ले लें कि मौजूदा बीमारी के कवर के लिए कितना वेटिंग पीरियड है। नेशनल परिवार मेडिक्लेम पॉलिसी में बीमा राशि के अलावा गंभीर बीमारियों का कवर 2 लाख रुपए से शुरू होता है जो अधिकतम 10 लाख रुपए तक होता है। 

छूट : ये जांच लें कि आप कितना प्रीमियम दे रहे हैं और कंपनियां कितनी छूट दे रही हैं। जब आप नेशनल परिवार मेडिक्लेम पॉलिसी की दूसरों के साथ तुलना करते हैं, तो आप देखेंगे कि नेशनल इंश्योरेंस कंपनी नई पॉलिसी और ऑनलाइन पॉलिसी नवीनीकरण करने पर छूट देती है। लंबी अवधि की पॉलिसी पर छूट दी जाती है और 45 वर्ष की आयु के बाद मैटर्निटी/infertility कवर पर भी छूट दी जाती है।

Posted By: Digpal Singh