PreviousNext

हिंसा की आशंकाओं के बीच मतदान आज

Publish Date:Fri, 17 Apr 2015 10:36 PM (IST) | Updated Date:Fri, 17 Apr 2015 10:43 PM (IST)
हिंसा की आशंकाओं के बीच मतदान आज
बंगाल की सत्ता का सेमीफाइनल कहे जाने वाले कोलकाता नगर निगम पर कब्जे के लिए शनिवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो जाएगा। परंतु, जिस तरह से चुनाव पूर्व ही महानगर के कई इलाकों में ह

कोलकाता। बंगाल की सत्ता का सेमीफाइनल कहे जाने वाले कोलकाता नगर निगम पर कब्जे के लिए शनिवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो जाएगा। परंतु, जिस तरह से चुनाव पूर्व ही महानगर के कई इलाकों में हिंसा, झड़प और हमले हुए हैं उससे आशंका जताई जा रही है कि चुनावी हिंसा के लिए कुख्यात बंगाल का निगम चुनाव भी शांतिपूर्ण व निर्बाध संपन्न नहीं हो सकेगा। ऐसी परिस्थिति में आम मतदाता घर से निकल कर मतदान केंद्र तक पहुंचें इसका राज्य चुनाव आयोग भी भरोसा नहीं दे सका है।

हिंसा के मद्देनजर विरोधी दल माकपा, भाजपा और कांग्र्रेस केंद्रीय बल की मौजूदगी में निगम चुनाव कराने की मांग करते आ रहे थे, लेकिन पर्याप्त संख्या में केंद्रीय बल नहीं मिला। जहां पचास कंपनी केंद्रीय बल की मांग की गई थी वहां मात्र तीन कंपनी केंद्रीय बल मिले हैं। ऐसी स्थिति में शनिवार को क्या होगा इससे लेकर आम वोटर भी आशंकित है।

कोलकाता नगर निगम चुनाव के 144 वार्डों में 1075 प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे हैं। वर्ष 2010 में तृणमूल ने कोलकाता नगर निगम पर कब्जा जमाया था। परंतु, इस बार स्थिति विपरीत है। अब तक जितने भी चुनाव पूर्व हिंसा की घटनाएं हुई हैं उनमें से अधिकांश में तृणमूल कांग्र्रेस कार्यकर्ता, नेता व समर्थकों पर हमले का आरोप लगा है। सारधा घोटाले का झंझावात झेल रही तृणमूल कांग्र्रेस के लिए वर्ष 2016 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले यह चुनाव अहम है। उसी तरह माकपा, भाजपा और कांग्र्रेस के लिए भी निगम चुनाव प्रतिष्ठा का विषय है। क्योंकि, निगम चुनाव के परिणाम यह बताएगा कि 2016 के विधानसभा चुनाव में ऊंट में किस करवट बैठेगा।

दूसरी ओर शनिवार के मतदान को लेकर चुनाव आयोग की तैयारी पूरी हो गई है। शुक्रवार से ही चुनाव कर्मियों, सुरक्षा बलों की बूथों पर तैनाती शुरू हो गई है। ईवीएम व अन्य आवश्यक दस्तावेज लेकर देर शाम बूथों पर पहुंच गए। संवेदनशील व अतिसंवेदनशील बूथों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करने का दावा आयोग ने किया है। निगम चुनाव में ईवीएम में नोटा के इस्तेमाल की आजादी मतदाताओं को नहीं दिया गया है। वहीं राजनीतिक दलों के प्रत्याशी व कार्यकर्ता भी मतदान को लेकर तैयारी पूरी कर ली है। चुनाव प्रचार थमने के बाद जनसंपर्क को लेकर प्रत्याशी तत्पर दिखें।

आंकड़ों पर नजर:-
कुल वार्ड-144
कुल प्रत्याशी- 1075
मतदान इमारत- 1516
बूथों की संख्या - 4,704
संवेदनशील केंद्र- 535
पर्यवेक्षक-15
कुल मतदाता- 37,53,256
महिला वोटर-17,52,562
केंद्रीय सुरक्षा बल-300
कुल पुलिस बल - 20,000
कोलकाता पुलिस जवान - 15,000
राज्य पुलिस जवान - 5,000
विशेष पुलिस पिकेट- 280
सेक्टर मोबाइल यूनिट -218
मतदान का समय- सुबह सात से अपराह्न तीन बजे तक

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Political violence rocks West Bengal ahead of Civic Polls(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

हिंसा के खिलाफ बुद्धदेव ने किया प्रतिवाद का आव्‍हानहिंसा के बीच हुआ कोलकाता निगम चुनाव
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »