PreviousNext

मैथ्यू ने तृणमूल के कांग्रेसी वकीलों पर उठाया सवाल

Publish Date:Mon, 17 Jul 2017 04:03 PM (IST) | Updated Date:Mon, 17 Jul 2017 04:03 PM (IST)
मैथ्यू ने तृणमूल के कांग्रेसी वकीलों पर उठाया सवालमैथ्यू ने तृणमूल के कांग्रेसी वकीलों पर उठाया सवाल
मैथ्यू ने सवाल उठाते हुए पूछा है कि तहलका स्टिंग के समय जिन्होंने मेरे पक्ष में लड़ा था वे अब किस मुंह से नारद में फंसे तृणमूल नेताओं के लिए लड़ेंगे?

कोलकाता, जागरण संवाददाता। नारद न्यूज पोर्टल के सीईओ मैथ्यू सैमुअल ने इस मामले में तृणमूल के कांग्रेसी वकीलों कपिल सिब्बल और सिद्धार्थ लूथरा पर कई सवाल खड़ा किया है। उन्होंने बताया है कि वर्ष 2001 में मैंने जब तहलका स्टिंग ऑपरेशन किया था तो इन दोनों वकीलों ने मुझे काफी सराहा था। उस स्टिंग के 90 ऑपरेशन मैंने खुद किया था और बाकी के 10 को मेरे बॉस ने किया था। उस समय कपिल और लूथरा ने ना सिर्फ मेरी सराहना की थी बल्कि मेरे लिए कानूनी मदद का सहारा भी दिया था लेकिन अब यहीं दोनों नारद स्टिंग में फंसे तृणमूल नेताओं को बचाने के लिए कलकत्ता हाईकोर्ट में जिरह करेंगे।

 

मैथ्यू ने पूछा है कि यह कैसा सिद्धांत है? उन्होंने कहा कि कोर्ट के निर्देश पर यह जांच हुई है कि नारद के फुटेज असली है, लेकिन अब कांग्रेस के ये दिग्गज नेता कोर्ट में यह सवाल खड़े करेंगे कि फुटेज असली है या नकली? मैथ्यू ने सवाल उठाते हुए पूछा है कि तहलका स्टिंग के समय जिन्होंने मेरे पक्ष में लड़ा था वे अब किस मुंह से नारद में फंसे तृणमूल नेताओं के लिए लड़ेंगे? जिन्होंने तहलका स्टिंग में मेरी सराहना की वे

नारद स्टिंग में मुझे टार्गेट किए जाने पर भी घूस लेने वालों को बचाने उतर रहे हैं।

 

उल्लेखनीय है कि नारद स्टिंग करने वाले मैथ्यू सैमुअल फिलहाल बिहार के पूर्व सांसद डीपी यादव को ब्लैकमेल करने के मामले में पुलिस जांच का सामना कर रहे हैं। उनका दावा है कि पुलिस द्वारा गढ़े गए इस केस के जरिए उन्हें फंसाने की कोशिश हो रही है। गौरतलब है कि 19 जुलाई को मैथ्यु कोलकाता आएंगे।

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Matthew has raised many questions on Trinamool s Congress lawyers Kapil Sibal and Siddharth Luthra(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

रुपये के विवाद में दोस्तों ने कर दी थी युवक की हत्याहेल्थ रेगुलेटरी कमीशन की वैधता पर हाईकोर्ट में जनहित याचिका
यह भी देखें