राहत-आफत साथ लाई मानसून की पहली जोरदार बारिश

Publish Date:Tue, 20 Jun 2017 01:06 AM (IST) | Updated Date:Tue, 20 Jun 2017 01:06 AM (IST)
राहत-आफत साथ लाई मानसून की पहली जोरदार बारिशराहत-आफत साथ लाई मानसून की पहली जोरदार बारिश
जागरण संवाददाता, कोलकाता : कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के विभिन्न जिलो में सोमवार को दिनभर उमस भरी गर्

जागरण संवाददाता, कोलकाता : कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के विभिन्न जिलो में सोमवार को दिनभर उमस भरी गर्मी के बाद शाम को मानसून की पहली जोरदार बारिश राहत-आफत साथ लेकर आई। बारिश की तेज फुहारों ने जहां मौसम को खुशगवार कर दिया, वहीं जान-माल का भी भारी नुकसान हुआ। राज्य में वज्रपात से 6 लोगों की मौत की खबर है। कई लोग जख्मी भी हुए हैं। मरने वालों में से 5 हुगली जिले के के हैं। वहां गंभीर हालत में एक अस्पताल में भी भर्ती है। आंधी-तूफान से राज्य की विभिन्न जगहों पर कई पेड़ उखड़ गए व कच्चे घर ढह गए। ट्रेन सेवाओं पर भी व्यापक असर पड़ा है। राजधानी कोलकाता की सड़कें लंबे अरसे बाद जलमग्न हुईं। आंधी-तूफान की वजह से शाम को घर लौट रहे लोग जहां-तहां फंस गए। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सोमवार शाम 6 से 7.45 बजे तक कालीघाट में 54 मिमी, सदर्न एवेन्यू में 38 मिमी, जोधपुर पार्क में 29 मिमी, मोमिनपुर में 51 मिमी और ठनठनिया काली में 45 मिमी बारिश हुई। मौसम विभाग ने अगले 48 घंटों में भी कोलकाता समेत दक्षिण बंगाल के विभिन्न जिलों में बारिश का पूर्वानुमान जताया है। इस दौरान उत्तर बंगाल में भी भारी बारिश होगी

हुगली में बरपा बिजली का कहर

हुगली जिले में बिजली का कहर जमकर बरपा। धनियाखाली थानांतर्गत मासूदपुर गाव में खेत में काम करके घर लौटते वक्त वज्रपात से दो लोगों की मौत हो गई। मृतकों के नाम मलय घोष (40) तथा प्रसनजीत घायल(32) हैं। दूसरी ओर चुंचुड़ा थानांतर्गत बसंत बगान में बिजली गिरने से वहां खेल रहे चार युवक गंभीर रूप से जख्मी हो गए। चारों को चुंचुड़ा इमामबाड़ा अस्पताल ले जाने पर वहां तीन की मौत हो गई। उनके नाम शुभजीत दास (24), दीपंकर पाल (17) व सुजय पाल (18) हैं। एक का इलाज चल रहा है। वहीं पूर्व ब‌र्द्धमान के कालना में वज्रपात से एक छात्र की मौत हो गई। गौरतलब है कि बंगाल में गत 12 जून को मानसून ने दस्तक दी थी लेकिन बारिश नहीं होने से लोग गर्मी और उमस से बेहाल थे। आखिरकार सोमवार शाम से महानगर व विभिन्न जिलों में झमाझम बारिश शुरू हुई, जिससे राहत मिली। अलीपुर मौसम कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर बंगाल में आए चक्रवात के कारण बारिश हुई है। सोमवार को कोलकाता में दिन का तापमान करीब 37 ़िडग्री दर्ज किया गया।

इधर, निजी मौसम एजेंसी 'स्काइमेट' के मुताबिक पश्चिम बंगाल के गंगा तटीय इलाकों से लेकर ओड़िशा के तटीय क्षेत्रों तक में निम्न दबाव की स्थिति बनी हुई है, जिसके कारण महानगर के आसमान में बादल छाए रहेंगे लेकिन उमस में कमी नहीं होगी। वहीं 20 जून से महानगर में तेज मानसूनी बारिश होने का अनुमान है। रविवार सुबह से सोमवार सुबह तक वीरभूम जिले के शांतिनिकेतन में 19.8 मिमी, नदिया जिले के कृष्णानगर में 19.6 मिमी, कूचबिहार में 8.4 मिमी, बांकुड़ा में 7.4 मिमी, मालदा में 2.9 मिमी और जलपाईगुड़ी में 1 मिमी बारिश दर्ज की गई है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    यह भी देखें