आप यहां है:होमन्यूज़
  • राष्ट्रीय
  • अजमेर ब्लास्ट केस में 22 मार्च को होगा सजा का ऐलान

    • Published onSat Mar 18 13:40:52 IST 2017

    • last update onSat Mar 18 13:40:52 IST 2017

    • Share

    अजमेर दरगाह में बम ब्लास्ट के मामले में दोषी ठहराए गए दोनों आरोपियों देवेन्द्र गुप्ता और भावेश पटेल को NIA अदालत में पेश किया गया| जहां सुनवाई के दौरान एक बार फिर कोर्ट ने सज़ा के फैसले को टाल दिया है| अब 22 मार्च को सज़ा पर फैसला सुनाया जाएगा| सजा के बिन्दुओं को लेकर दोनों पक्षों के वकीलों में काफी बहस हुई। अनलॉफुल एक्टिविटीज प्रिविन्शन एक्ट के सेक्शन 18 के तहत सजा दी जाए तो दोनों आरोपियों को कम से कम उम्रकैद और अधिकतम मृत्युदंड की सजा हो सकती है| जबकि सीआरपीसी के सेक्शन के तहत सजा तय की जाए तो न्यूनतम सजा पांच साल की कैद और अधिकतम सजा उम्रकैद हो सकती है| देश के इस चर्चित प्रकरण पर सबकी निगाहें टीकी हुई है|

    संबंधित वीडियो

    ज्यादा पठित