PreviousNext

उत्‍तराखंड में धूमधाम से मनाया गया लोकपर्व हरेला

Publish Date:Sun, 16 Jul 2017 11:55 AM (IST) | Updated Date:Sun, 16 Jul 2017 05:05 PM (IST)
उत्‍तराखंड में धूमधाम से मनाया गया लोकपर्व हरेलाउत्‍तराखंड में धूमधाम से मनाया गया लोकपर्व हरेला
लोकपर्व हरेला धूमधाम के साथ मनाया गया। सरकारी स्तर पर जिला मुख्यालय समेत आसपास के क्षेत्रों में 50 हजार से अधिक पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया है।

नैनीताल, [जेएनएन]: लोकपर्व हरेला धूमधाम के साथ मनाया गया। सरकारी स्तर पर  जिला मुख्यालय समेत आसपास के क्षेत्रों में 50 हजार से अधिक पौधरोपण का लक्ष्य रखा गया है। राजभवन के पीछे की पहाड़ी निहालनाले से कल शुरूआत हो चुकी है।  

आज सुबह शुभ मुहूर्त पर विधि विधान के साथ घरों में बोया गया हरेला काटा गया। पहले देवताओं को अर्पित करने के बाद हरेले से सिर पूजन किया गया। परिवार के बड़े बुजुर्गों ने लाख हरयाल, लाख बग्वाल, जी रये, जागी रये.... आदि आशीष देकर छोटों का पूजन किया। 

विवाहित महिलाओं ने मायके पहुंचकर भाई व अन्य परिजनों का पूजन किया। घरों में विशेष प्रकार के पकवान तैयार किये जा रहे हैं। लोक संस्कृति कर्मी भी नई पीढ़ी में पर्व को लेकर उल्लास देख उत्साहित हैं।

हल्द्वानी में जी रया जाग रया के साथ पूजा गया हरेला

 

लोक पर्व हरेला नैनीताल जिलेभर में उल्लास के साथ मनाया गया। घर की बुजुर्ग महिला ने हरेला काटकर देवताओं को अर्पित किया।

बाद में देली पूजन और गांव के देवताओं को हरेला चढ़ाने के बाद परिवार के सदस्यों को हरेला पूजा गया। जी रया, जाग रया, यो दिन मास भेंटनै रया के आशीर्वचन के साथ लंबी उम्र, अच्छे स्वास्थ्य की कामना की गई। घरों में पकवान बनाकर घर घर बांटे गए। बच्चों में विशेष उत्साह का माहौल देखने को मिला। लोगों ने एक दूसरे की हरेली की बधाई। दी। हरेले के मौके पर कई जगह पौधरोपण भी किया जा रहा है। इधर हरेले के साथ कुमाऊं में श्रावण मास की शुरुआत हो गई है। श्रावण को शिव के पूजन के लिए विशेष माह समझा जाता है। 

 

हल्द्वानी में जी रया जाग रया के साथ पूजा गया हरेला

लोक पर्व हरेला नैनीताल जिलेभर में उल्लास के साथ मनाया गया। घर की बुजुर्ग महिला ने हरेला काटकर देवताओं को अर्पित किया।बाद में देली पूजन और गांव के देवताओं को हरेला चढ़ाने के बाद परिवार के सदस्यों को हरेला पूजा गया। जी रया, जाग रया, यो दिन मास भेंटनै रया के आशीर्वचन के साथ लंबी उम्र, अच्छे स्वास्थ्य की कामना की गई। घरों में पकवान बनाकर घर घर बांटे गए। बच्चों में विशेष उत्साह का माहौल देखने को मिला। लोगों ने एक दूसरे की हरेली की बधाई। दी। हरेले के मौके पर कई जगह पौधरोपण भी किया जा रहा है। इधर हरेले के साथ कुमाऊं में श्रावण मास की शुरुआत हो गई है। श्रावण को शिव के पूजन के लिए विशेष माह समझा जाता है। 

 

सीएम ने हरेला के अंतर्गत पौधरोपण की शुरुआत की

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहरादून के डोईवाला के माधोवाला स्थित बीएसएफ कैंप में प्रदेश स्तर पर चलाए जाने वाले हरेला कार्यक्रम के अंतर्गत पौधरोपण कर शुरुआत की है। मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद्र अग्रवाल, वन मंत्री डॉक्टर हरि सिंह रावत, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे, कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल सहित कई विधायक वन विभाग के अधिकारी ने भी पौधरोपण कार्यक्रम में सहभागिता निभाई। इस दौरान मुख्यमंत्री ने वन विभाग की प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।

 

यह भी पढ़ें: हरिद्वार में चारों ओर बम-बम भोले का जयघोष

यह भी पढ़ें: भद्रा और चंद्रग्रहण का नहीं पड़ेगा रक्षा बंधन पर कोई असर

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Celebrate harela festival in Uttarakhand(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

पुणे से आए विशेषज्ञ भी नहीं तलाश पाए पार्किंग की जगहएकीकरण के विरोध में आंदोलन कल
यह भी देखें