PreviousNext

महाराष्ट्र से हेमकुंड साहिब पहुंचा 1400 श्रद्धालुओं का जत्था

Publish Date:Sat, 12 Aug 2017 07:51 PM (IST) | Updated Date:Sat, 12 Aug 2017 10:54 PM (IST)
महाराष्ट्र से हेमकुंड साहिब पहुंचा 1400 श्रद्धालुओं का जत्थामहाराष्ट्र से हेमकुंड साहिब पहुंचा 1400 श्रद्धालुओं का जत्था
नांदेड़ साहिब (महाराष्ट्र) से हेमकुंड साहिब की यात्रा पर गोविंदघाट पहुंचा 1400 श्रद्धालुओं का जत्था। यात्री रविवार को पवित्र सरोवर में स्नान कर गुरुद्वारे में मत्था टेकेंगे।

गोपेश्वर(चमोली), [जेएनएन]: बारिश से यात्रा भले ही प्रभावित हो रही हो, लेकिन यात्रियों के हौसलों में कोई कमी नहीं है। इसका प्रमाण है नांदेड़ साहिब (महाराष्ट्र) से हेमकुंड साहिब की यात्रा पर गोविंदघाट पहुंचा 1400 श्रद्धालुओं का जत्था। ये यात्री रविवार को हेमकुंड साहिब स्थित पवित्र सरोवर में स्नान कर गुरुद्वारे में मत्था टेकेंगे। इसके बाद वे लोकपाल लक्ष्मण मंदिर में भी पूजा-अर्चना करेंगे।

महाराष्ट्र के नांदेड़ साहिब को सिखों का पांचवां तख्त माना जाता है। नांदेड़ साहिब के पूर्व प्रधान सरदार शेर सिंह के नेतृत्व में 1400 श्रद्धालुओं का जत्था हेमकुंड साहिब की यात्रा पर आया है। इन श्रद्धालुओं ने शनिवार को गोविंदघाट गुरुद्वारे में मत्था टेककर हेमकुंड साहिब की यात्रा शुरू की। जत्थे को गुरुद्वारा प्रबंधक सरदार सेवा सिंह ने रवाना किया। खास बात यह कि नांदेड़ साहिब से आए इस जत्थे के साथ चार घोड़े भी हैं। 

मान्यता है कि गुरु गोविंद सिंह हमेशा नील नस्ल के घोड़े पर सवारी किया करते थे। इसी परंपरा का निर्वाह करते हुए यात्री चार नील नस्ल के घोड़े भी ऋषिकेश तक अपने साथ लाए।

नांदेड़ साहिब गुरुद्वारे के पास रहने वाले बिजेंद्र सिंह इस यात्रा में निशानची की भूमिका में हैं। वे गुरुजी का निशान लेकर यात्रा में चल रहे हैं। बिजेंद्र सिंह का कहना है कि यहां का मौसम व सड़कें बेहतर हैं। जब वे घर से चले थे तो आपदा को लेकर संशय था, लेकिन यहां आकर सब-कुछ सामान्य नजर आया। यात्रा का नेतृत्व कर रहे सरदार शेर सिंह का कहना है कि गुरुजी के जन्मोत्सव पर हेमकुंड साहिब यात्रा का विशेष महत्व है। क्योंकि गुरुजी जहां नांदेड़ में अपना अंतिम समय बिताने आए थे, वहीं हेमकुंड साहिब में उन्होंने पूर्व जन्म में तपस्या की थी। 

 

  यह भी पढ़ें: केदारनाथ में धूमधाम से मना अन्नकूट मेला

यह भी पढ़ें: केदारनाथ त्रासदी ने ऐसा झकझोरा की बनारस से बदरीनाथ पैदल पहुंचे देवाशीष

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Batch of 1400 devotees reached Hemkund(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

निरीक्षण को गए जिलाधिकारी छात्रों को पढ़ाने लगे गणितशिक्षिकाओं की रात्रि ड्यूटी पर शिक्षक संघ नाराज
यह भी देखें