PreviousNext

वाराणसी के पांच गांवों को वाई-फाई सेवा की सुविधा

Publish Date:Tue, 06 Sep 2016 03:33 PM (IST) | Updated Date:Tue, 06 Sep 2016 03:54 PM (IST)
वाराणसी के पांच गांवों को वाई-फाई सेवा की सुविधा
जिले के पाँच चयनित गाँवों को वाईफाई की सुविधा भी दी गई। इस दौरान उन्‍होंने डिजिटल इंडिया पर चर्चा करते हुए बताया कि डिजिटल इंडिया कोई राजनैतिक मंच नहीं है।

वाराणसी (जेएनएन)। बीएचयू स्थित स्वतंत्रता भवन में वाराणसी वीएलई कांफ्रेस का केंद्रीय इलेक्ट्रानिक्स तथा आइटी वकानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मंगलवार दोपहर उद्घाटन किया। समारोह में जिले के पाँच चयनित गाँवों को वाईफाई की सुविधा भी दी गई। इस दौरान उन्होंने डिजिटल इंडिया पर चर्चा करते हुए बताया कि डिजिटल इंडिया कोई राजनैतिक मंच नहीं है।

वाराणसी में हजारों हाथों ने थामा 7500 मीटर लंबा तिरंगा, बना विश्व रिकार्ड

इसके लिए राज्य सरकार और केन्द्र सरकार दोनों ही मिलकर काम करें ताकि बेहतर भविष्य के नतीजे सामने आ सकें। ग्रामीण उद्यमिता के विकास पर कहा कि स्किल डेवेलपमेंट के लिये टीसीएस से समझौता करने के साथ सीएसएसी (कामन सविैस सेंटर) चलाने वालों का कमीशन बढ़ाने के लिये मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से बात करूँगा। साथ ही सुपर 30 के आनंद कुमार की सेवा भी अब सीएसएसी पर मिलेगी।

वाराणसी जा रही जलपरी की राह में लोगों ने जगह-जगह बिछाईं पलकें

जो सीएससी बेहतर काम करेगा उसके लिये नये पुरस्कार की भी शुरुआत होगी। पत्रकारों से बातचीत में यूपी में आगामी चुनावों पर उन्होंने कहा कि यूपी में इस समय परिवारवाद चल रहा है। अगले वर्ष चुनाव में राष्ट्रवाद चलेगा अौर बीजेपी सूबे में वासपी करेगी। प्रदेश में कांग्रेस की संभावनाओं के बारे में कहा कि राहुल बच्चा है लिखने वाले जो लिख कर देते हैं वही राहुल गांधी पढते हैंं।

उत्तर प्रदेश के हालात पहले से बेहद खराब : राज बब्बर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Wi-Fi access to five villages in Varanasi(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

आठ सितंबर से उत्तर प्रदेश के गांवों में होगी अपनी सरकार...और 18 साल बाद साधु वेष में परिवार से मिल गए महिमाशंकर
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »