PreviousNext

बैसाखी सेलिब्रेशन में दिखा संगिनियों का उत्साह

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 02:21 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 02:21 AM (IST)
बैसाखी सेलिब्रेशन में दिखा संगिनियों का उत्साहबैसाखी सेलिब्रेशन में दिखा संगिनियों का उत्साह
वाराणसी : घर की जिम्मेदारियों के बीच खुद के लिए समय निकालकर जहां आम गृहणियां भांगड़े की धुन पर जमकर थ

वाराणसी : घर की जिम्मेदारियों के बीच खुद के लिए समय निकालकर जहां आम गृहणियां भांगड़े की धुन पर जमकर थिरकीं, तो वहीं गायन, परिधान व पाक कला के माध्यम से अतिथियों का ध्यान भी आकर्षित किया। मौका था छावनी क्षेत्र स्थित होटल वेस्ट इन में गुरुवार को दैनिक जागरण संगिनी क्लब की ओर से आयोजित बैसाखी सेलिब्रेशन का। एमटीआर फूडस, होटल वेस्ट इन व जय माता दी फ्लावर डेकोरेशन के सहयोग से आयोजित कार्यक्रम में संगिनियां पूरे उत्साह के साथ गायन, नृत्य, पाक कला व परिधान प्रतियोगिता में शामिल हुई। महिलाएं थीम पर आधारित ग्रीन व यलो रंग के परिधान में सज-धज कर पहुंचीं। गायन हो, नृत्य या फिर व्यंजन सब कुछ बैसाखी के रंग से ओत-प्रोत था। सभी विद्याओं में संगिनियों का जलवा कायम था। वहीं निर्णायकों ने विभिन्न प्रतियोगिता के विजयी प्रतिभागियों के नाम पर मुहर लगाई। इस क्रम में रितु मिश्रा, मान्या, अर्चना अग्रवाल व छाया श्रीवास्तव को क्रमश: परिधान, नृत्य, गायन व पाक कला प्रतियोगिता का विजेता घोषित किया गया। वहीं कुमुद विश्वकर्मा, अमीषा सिंह, अनु, निशा, वीनस, विनिता अग्रवाल, डा. निशा, पलक वासवानी, अनीता जायसवाल, सिद्धी सर्राफ, कोमल सेठ, मीनू ग्रोवर, पूर्णिमा जायसवाल व कुलदीप कौर प्रोत्साहन पुरस्कार से सम्मानित की गई। मुख्य अतिथि जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्रा की धर्मपत्नी सुधा मिश्रा जबकि विशिष्ट अतिथि गंगोत्री देवी यादव, रीता सिंह, अनीता सिंह एवं डा. किरन कौशिक थीं। संचालन मेधा पाठक ने किया। इस अवसर पर दैनिक जागरण के यूनिट हेड डा. अंकुर चड्ढा भी उपस्थिति रहे।

---------------------

इस तरह के आयोजन घरेलू महिलाओं के आत्मविश्वास को निखारने का काम करते हैं। दैनिक जीवन में भारतीय परिधानों को वरीयता देकर हम अपनी गौरवशाली संस्कृति को बरकरार रख सकते हैं।

-सुधा मिश्रा

-------------

बच्चों की परवरिश व परिवार चलाने की जिम्मदारी निभाने वाली महिलाओं के भीतर प्रतिभाओं की कमी नहीं होती। अमूमन घरेलू महिलाओं के लिए बहुत कम आयोजन होते हैं।

-गंगोत्री देवी यादव

---------------

महिलाएं रोजमर्रा के कार्यो में इतनी मशगूल रहती हैं कि स्वयं के लिए वक्त ही नहीं निकाल पातीं। इन महिलाओं की दिक्कतों को समझते हुए दैनिक जागरण संगिनी क्लब का प्रयास सराहनीय है।

-डा. किरन कौशिक

----------------

पहली बार इस तरह के आयोजन में शामिल हुई। महिला सदस्यों से काफी कुछ सीखने को मिला। कार्यक्रम में शामिल होकर महिलाएं कुछ समय के लिए अपने रोजमर्रा की दिक्कतों को भी भूल गई।

-रीता सिंह

--------------

ये ऐसा समय होता है जब महिलाएं अपनी अन्य जिम्मेदारियों को भूलकर उत्साह व उमंग से सराबोर हो जाती हैं। ऐसे आयोजनों के माध्यम से जहां घरेलू महिलाओं के आत्मविश्वास में इजाफा हो रहा है, वहीं उनकी छिपी प्रतिभाएं भी निखर रहीं हैं।

-अनीता सिंह

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    परंपरा को निभाया, सुरों को संजोयावाराणसी में बना आरटीओ माफिया सेल, मचा हड़कंप
    यह भी देखें