PreviousNext

बदहाली पर आंसू बहा रहा केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 11:01 PM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 11:01 PM (IST)
बदहाली पर आंसू बहा रहा केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़बदहाली पर आंसू बहा रहा केंद्रीय विद्यालय शिवगढ़
शिवगढ़: लगभग 80 हजार आबादी वाले विकास क्षेत्र के शिक्षा के स्तर को देखते हुए सांसद सोनिया गांधी ने क

शिवगढ़: लगभग 80 हजार आबादी वाले विकास क्षेत्र के शिक्षा के स्तर को देखते हुए सांसद सोनिया गांधी ने क्षेत्र के लोगों की मांग पर 2012 में यूपीए सरकार में शिवगढ़ को केंद्रीय विद्यालय दिया। उस समय विद्यालय के पास भवन न होने से विद्यालय को संचालित होने परेशानी हो रही थी तो पूर्व एमएलसी राजा राकेश प्रताप ¨सह ने शिवगढ़ की पुरानी कोठी का एक हिस्सा नि:शुल्क देकर विद्यालय को संचालित करा दिया।

मई 2013 में केन्द्रीय राज्य मंत्री जीतिन प्रसाद ने ग्राम पंचायत रामपुर खास और सरायक्षत्रधारी की ग्राम समाज की जमीन पर प्रस्ताव के बाद केंद्रीय विद्यालय का भूमि पूजन और शिलान्यास किया। उसके बाद जनवरी 2015 से 12 करोड़ की लागत से केंद्रीय विद्यालय का निमार्ण शुरू हुआ शासन प्रशासन तथा ठेकेदार के लापरवाही के चलते पांच वर्ष बीतने को है विद्यालय का भवन अधूरा है। इससे साफ है कि 2018 के शिक्षा सत्र में ही विद्यालय पूरी से पूरा हो पाएगा। दूसरी तरफ जिस कोठी में विद्यालय चल रहा है। वह क्षतिग्रस्त है। किसी भी समय बड़ा हादसा हो सकता ह । इसके चलते अविभावको के चेहरे पर जर्जर भवन को लेकर ¨चता की लकीरे दिखाई पड़ रही है।

क्या कहते हैं प्रधानाध्यापक

विद्यालय के प्रधानाचार्य राबिन ग प्ता का कहना है। हमने अपने उच्चाधिकारियो को जर्जर भवन और धीमी गति भवन निमार्ण की सूचना दे दी है।

क्या कहते हैं अविभावक

हरिकेश ¨सह का कहना कि शासन प्रशासन के लापरवही के चलते विद्यालय का भवन अभी तक अधूरा है। जिसके चलते किसी भी कोई हादसा आशंका बनी रही है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    डेलीगेट के चुनाव में एनआरएमयू का लहराया परचमराजनीति की भेंट चढ़ गया शहर का सीमा विस्तार
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें