PreviousNext

हादसे की चपेट में आने से बचे एसीएमओ और परिवार

Publish Date:Tue, 21 Mar 2017 02:06 AM (IST) | Updated Date:Tue, 21 Mar 2017 02:06 AM (IST)
हादसे की चपेट में आने से बचे एसीएमओ और परिवारहादसे की चपेट में आने से बचे एसीएमओ और परिवार
कंकरखेड़ा : कार में अमृतसर से लौट रहे एसीएमओ व उनका परिवार रविवार रात बड़े हादसे की चपेट में आने से बच

कंकरखेड़ा : कार में अमृतसर से लौट रहे एसीएमओ व उनका परिवार रविवार रात बड़े हादसे की चपेट में आने से बच गया। नंगलाताशी के सामने चलती कार में अचानक धुआं उठने के बाद आग लग गई। गनीमत रही कि समय रहते पूरा परिवार कार से बाहर निकल चुका था। हालांकि हादसे में एसीएमओ के दो मोबाइल व अन्य सामान जलकर राख हो गया। मामले की तहरीर दे दी है।

मवाना रोड कसेरूबक्सर निवासी डा. शैलेंद्र सिंह मुजफ्फरनगर में एडीशनल सीएमओ हैं और उनकी पत्नी डा. अनीता ¨सह महिला अस्प्ताल में तैनात हैं। रविवार की रात डा. शैलेंद्र अपनी पत्‍‌नी डा. अनीता व दो बेटियों के साथ होंडा सिटी कार में अमृतसर से वापस लौट रहे थे। सरधना रोड स्थित नंगलाताशी के पास कार से धुआं निकलने लगा। डा. शैलेंद्र ने उतरकर देखने की कोशिश की, लेकिन इसी बीच धुआं ज्यादा बढ़ गया। आनन-फानन में पूरा परिवार कार से बाहर निकल आया। कुछ ही देर में कार से आग की लपटें उठने लगी। आग जलता देखकर भीड़ एकत्र हो गए और आग बुझाने का प्रयास किया। पास स्थित ढाबा में लगे सबमर्सिबल पंप के पाइप से आग बुझाई गई। आग का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। डा. शैलेंद्र ¨सह ने बताया कि कार में रखे दो मोबाइल और अन्य सामान भी जलकर राख गए। डा. शैलेंद्र ने मामले की तहरीर दी है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    दो घंटे अटकी रही मां-बच्चों की सांसकाली के किनारे पांच गुना ज्यादा फैला कैंसर
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें