PreviousNext

दो घंटे अटकी रही मां-बच्चों की सांस

Publish Date:Tue, 21 Mar 2017 02:05 AM (IST) | Updated Date:Tue, 21 Mar 2017 02:05 AM (IST)
दो घंटे अटकी रही मां-बच्चों की सांसदो घंटे अटकी रही मां-बच्चों की सांस
मेरठ : श्यामनगर में पिलोखड़ी चौकी के पास पशु व्यापारी के घर डाका डालने आए डकैतों को पूरी जानकारी थी।

मेरठ : श्यामनगर में पिलोखड़ी चौकी के पास पशु व्यापारी के घर डाका डालने आए डकैतों को पूरी जानकारी थी। उनके पास ये भी इनपुट था कि पशु व्यापारी पैंठ में गए हुए हैं। इसके चलते उन्होंने दो घंटे तक परिवार को बंधक बनाए रखा। बदमाशों ने घर में घुसते ही परिवार को बंधक बनाने के बाद 40 लाख रुपये के बारे में पूछना शुरू कर दिया। रेशमा ने 40 लाख रुपये की जानकारी से इंकार किया तो बदमाशों ने मारपीट भी की। उन्होंने दोनों कमरों की अलमारियों की चाबियां लेकर पूरे घर को खंगाल डाला। घर में रखे करीब दो लाख रुपये, रेशमा और फरहा के जेवरात समेत घर में रखे दूसरे सोने-चांदी जेवरात लूट लिए। बदमाश करीब दो घंटे तक घर में रहे। इस बीच उन्हें तीनों को बांधकर एक कमरे में डाल दिया। पूरा घर खंगालने के दौरान वे धमकी भी देते रहे कि अगर शोर मचाया तो उनका एक आदमी पैंठ में भी है। वहीं पर बिलाल को मार देगा। वारदात को अंजाम देकर बदमाश बाहर से गेट की कुंडी लगाकर फरार हो गए।

बच्चे ट्यूशन से लौटे तो हुई जानकारी

कुछ देर बाद बिलाल का बेटा सोहेल और बेटी महक ट्यूशन पढ़कर निकले तो बाहर से गेट बंद था। गेट खोले जाने पर भीतर पहुंचे तो तीनों को उन्होंने बंधक मुक्त कराया। इसके बाद मोहल्ले के लोगों को सूचना दी।

सीसीटीवी में नजर आ रहे बदमाश

इंस्पेक्टर लिसाड़ी गेट चंद्रभान यादव, सीओ कोतवाली रणविजय सिंह, क्राइम ब्रांच समेत फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की। जांच में दूसरी गली में इकबाल के घर के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में चार बदमाश नजर आ रहे हैं। इनमें दो बाहर गली में ही घूम रहे थे।

स्थानीय हैं बदमाश

परिवार के मुताबिक बदमाशों की उम्र 20 से 25 साल के बीच थी। उनकी बोलचाल से वे लोकल ही लग रहे थे। एक के दाढ़ी थी। दूसरे ने मुंह पर कपड़ा और तीसरे ने कैप लगा रखी थी। एक को बार-बार वे जावेद कहकर बुला रहे थे।

ज्वैलरी की कीमत का अभी आंकलन नहीं

पशु व्यापारी बिलाल ने बताया कि लूट गई ज्वैलरी के बारे में परिवार के लोगों से बात कर रहे हैं। घर में बेटी की शादी के लिए रखी गई ज्वैलरी के अलावा भाइयों के परिवार के भी जेवरात थे। ऐसे में कितना सोना-चांदी गया इसके बारे में वे बाद में ही बता पाएंगे। हालांकि उनकी बेटी के मुताबिक लूटी गई ज्वैलरी 30 से 35 लाख के करीब है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    बाथरूम में फांसी पर लटका मिला व्यापारी, पीवीएस पर जामहादसे की चपेट में आने से बचे एसीएमओ और परिवार
    यह भी देखें