PreviousNext

गोवर्धन जा रहे हो, सोच लो

Publish Date:Tue, 21 Aug 2012 06:46 PM (IST) | Updated Date:Tue, 21 Aug 2012 06:48 PM (IST)
गोवर्धन जा रहे हो, सोच लो

गोवर्धन: अधिकमास चल रहा है। गिरिराज जी की आस्था में अगर आप गोवर्धन जा रहे हैं या जाने वाले हैं तो सोच लें। परिक्रमा से पहले आपको जाम के तमाम बैरियर पार करने पड़ेंगे। मुडिया पूनो मेला जैसी भीड़ का आकलन कर प्रशासन ने चाक चौबंद इंतजामों का कागजी होमवर्क तो कर लिया था, मगर इसको अमली जामा पहनाने का ध्यान नहीं रहा। और इसी अनदेखी का नतीजा है कि परिक्रमा मार्ग में भी एलान से वाहन दौड़ाए जा रहे हैं।

पाच दिन के मुड़िया मेला के लिए महीनों तक तैयारियों का ढिंढोरा पीटने वाला प्रशासन एक महीना तक चलने वाले अधिक मास के मेले के लिए बेफिक्र है। कहने को तो अधिक मास के लिए गिरिराज महाराज की सप्तकोसीय परिक्रमा मार्ग में श्रद्धालुओं की अधिकता को देखते हुए वाहनों को प्रतिबंधित कर रखा है। तथा परिक्रमा मार्ग के चारों ओर पार्किंग व्यवस्था के भी इंतजामात किये गये हैं। परंतु पुलिस प्रशासन की लापरवाही के कारण व्यवस्थाओं को धता बताकर सैकड़ों वाहन परिक्रमा मार्ग में घूमते नजर आते हैं।

परिक्रमा मार्ग में लाखों श्रद्धालुओं की उपस्थिति के बावजूद प्रशासन द्वारा प्रमुख दानघाटी मंदिर के सामने से गुजरने वाले भारी वाहनों को प्रतिबंधित नहीं किया गया। जबकि विगत एक सप्ताह में यहां कई हादसे हो चुके हैं। राधाकुंड में पहाड़गंज दिल्ली की रहने वाली खुश्बू दीक्षित के दंडवती परिक्रमा करते समय पैर पर कार चढ़ गई जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गई। वाहनों के परिक्रमा मार्ग में प्रवेश करने के कारण सबसे ज्यादा परेशानी दंडवती करने वाले श्रद्धालुओं को हो रही है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    डीएसपी के कार्यक्षेत्र में फेरबदल160 गांवों की बिजली 12 घंटे रही गायब
    यह भी देखें