PreviousNext

बाबा विश्वनाथ दरबार से सीधे जुड़ेंगे रामलला, विंध्यधाम भी शामिल

Publish Date:Mon, 17 Jul 2017 01:10 PM (IST) | Updated Date:Mon, 17 Jul 2017 09:44 PM (IST)
बाबा विश्वनाथ दरबार से सीधे जुड़ेंगे रामलला, विंध्यधाम भी शामिलबाबा विश्वनाथ दरबार से सीधे जुड़ेंगे रामलला, विंध्यधाम भी शामिल
दो चरणों में बनने वाले इस राजमार्ग का प्रस्ताव बनाकर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अफसरों ने केंद्र को भेज दिया है। उम्मीद है कि महीने के अंत तक राजमार्ग की हरी झंडी मिल

वाराणसी विजय उपाध्याय । शिवनगरी काशी को रामलला की अयोध्या से सीधे जोडऩे के लिए एक राजमार्ग (भारत माला स्कीम के अंतर्गत) की कवायद शुरू हो गई है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने खास योजना बनाई है। इसके तहत बैकवर्ड रूरल एंड टूरिज्म (बीआरटी) प्रोजेक्ट पर काम हो रहा है। इसमें विंध्यधाम भी शामिल है। 

दो चरणों में बनने वाले इस राजमार्ग का प्रस्ताव बनाकर भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अफसरों ने केंद्र को भेज दिया है। उम्मीद है कि महीने के अंत तक राजमार्ग की हरी झंडी मिल जाएगी। पहले चरण में औराई से विंध्याचल तक करीब 15 किलोमीटर का काम होगा। इसके बाद वाराणसी से अयोध्या तक 189 किलोमीटर लंबे मार्ग का काम होगा। फिलहाल इसकी लागत करीब 7500 करोड़ आंकी गई है।

नहीं देख पाते आकर्षक स्थल
इस क्षेत्र में आकर्षक पर्यटन स्थल हैं लेकिन सड़कों का जुड़ाव सही तरीके से न होने के चलते पर्यटक चाहकर भी उनका दीदार नहीं कर पाते। इन्हीं क्षेत्रों को सरकार सामने लाना चाहती है।

इस तरह जुड़ेगा राजमार्ग
राजमार्ग वाराणसी से प्रारंभ होकर सिंधोरा, जौनपुर, शाहगंज, अकबरपुर होते अयोध्या जाएगा। इसके अलावा औराई से विंध्याचल तक का राजमार्ग भी बनेगा।

एक नजर आंकड़ों पर
-204 : किलोमीटर लंबा होगा राजमार्ग
-7500 : करोड़ का होगा बजट
-07 : बाईपास होंगे
-04 : लेन की होगी सड़क
-10 : आरओबी/फ्लाईओवर्स/अंडरपास
 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Ramlalah and Vindhyadham will also be connected directly to Baba Vishwanath Darbar(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

तीसरे चरण की एसईई काउंसिलिंग खत्म, सिर्फ 26 हजार सीटें भरीकिसानों की कर्जमाफी ने रोकी यूपी के विकास कार्यों की रफ्तार
यह भी देखें