PreviousNext

गोरखपुर मेडिकल कालेज त्रासदी पर सरकार पर बरसे मायावती व अखिलेश

Publish Date:Sat, 12 Aug 2017 05:22 PM (IST) | Updated Date:Sun, 13 Aug 2017 08:23 AM (IST)
गोरखपुर मेडिकल कालेज त्रासदी पर सरकार पर बरसे मायावती व अखिलेशगोरखपुर मेडिकल कालेज त्रासदी पर सरकार पर बरसे मायावती व अखिलेश
समाजवादी पार्टी और बसपा दोनों ने ही अपनी टीम बीआरडी मेडिकल कॉलेज भेजकर जायजा लेने की बात कही है।बसपा सुप्रीमो मायावती ने मेडिकल कॉलेज में हुए हादसे को लेकर अपना बयान जारी किया है।

लखनऊ (जेएनएन)। गोरखपुर में बीते दो दिन में मासूमों सहित 48 लोगों की की मौत से हाहाकार मचा हुआ है। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार अब विपक्ष के निशाने पर है। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती के साथ ही समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी गोरखपुर की त्रासदी पर आज योगी आदित्यनाथ सरकार पर जमकर हमला बोला है। 

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी गोरखपुर में मासूमों की मौत मामले पर सरकार पर तीखा हमला किया। उन्होंने कहा कि सरकार विपक्ष से सच छिपाना चाह रही है। वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि इस दर्दनाक घटना के लिए भारतीय जनता पार्टी की सरकार की जितनी निंदा की जाए उतनी कम है। मायावती ने कहा कि यह मौत नहीं हाहाकार है। समाजवादी पार्टी और बसपा दोनों ने ही अपनी टीम बीआरडी मेडिकल कॉलेज भेजकर जायजा लेने की बात कही है।

 

बसपा सुप्रीमो मायावती ने मेडिकल कॉलेज में हुए हादसे को लेकर अपना बयान जारी किया है। मायावती ने कहा कि भाजपा का स्वाभाव गलतियों को स्वीकार करने की आदत नहीं है। अब मामले की जांच कर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। मासूम बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री योगी को कड़ा एक्शन लेना चाहिए। गोरखपुर में मासूमों की मौत से हाहाकार मचा है।उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन सप्लाई मामले में सरकार की उदासीनता है।

 

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार को मौतों का जिम्मेदार बताया। इसके साथ ही उन्होंने जिला प्रशासन व मेडिकल प्रशासन पर आंकड़े छुपाने समेत तथा मृतकों के परिवारजिनों को जबरन एंबुलेंस में भरकर घर भेजने का आरोप भी लगाया।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में तीन दिन से जारी था मौत का सिलसिला मंत्री दिल्ली में व्यस्त

 

अखिलेश यादव ने कहा कि जिला प्रशासन और मेडिकल प्रशासन ने इस घटना का सही-सही आंकलन मीडिया तक नहीं पहुंचाया। उन्होंने कहा कि जब मरीजों की स्थिति बिगडऩे लगी तो आस पास के जिलों से आक्सीजन भेजी गई।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर में आॅक्सीजन सप्लाई ठप होने से 48 मरीजों की मौत, मचा कोहराम

उन्होंने कहा कि हो सकता है कमीशन की वजह से भुगतान ना हुआ हो। अगर मुख्यमंत्री स्तर पर समीक्षा में आक्सीजन भुगतान ना होने की बात सामने नही आई तो गलती किसकी। गोरखपुर की घटना दुखद है।

यह भी पढ़ें: गोरखपुर मेडिकल कालेज में आज फिर हुई पांच की मौत प्रशासन छिपाने में जुटा !

 

अखिलेश ने कहा कि गोरखपुर के मेडिकल कालेज में सभी आधुनिक सुविधाएं मिलनी चाहिए। वहां पर पूर्वांचल, नेपाल और बिहार से भी बच्चे इलाज के लिए आते हैं। योगी आदित्यनाथ सरकार इन चीजों पर ध्यान नही दे रही। हम केवल आवाज़ उठा रहे हैं मदद नही कर सकते। 

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Mayawati and Akhilesh Yadav fires on UP Government on Gorakhpur tragedy(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने गोरखपुर की घटना को बताया नरसंहारगोरखपुर त्रासदी: बड़ी कार्रवाई की तैयारी में योगी आदित्यनाथ सरकार
यह भी देखें