PreviousNext

मुख्यमंत्री का फरमान जारी गोकशी पर नपेंगे एसओ-सीओ

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 09:58 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 10:05 PM (IST)
मुख्यमंत्री का फरमान जारी गोकशी पर नपेंगे एसओ-सीओमुख्यमंत्री का फरमान जारी गोकशी पर नपेंगे एसओ-सीओ
कानून-व्यवस्था और सुशासन की अपेक्षा के साथ ही यह साफ कर दिया कि वह गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे। दो टूक कह दिया है कि गोकशी पर एसओ और सीओ के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

लखनऊ (जेएनएन)। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने सोमवार की सुबह अफसरों को कानून-व्यवस्था और सुशासन की अपेक्षा के साथ ही यह साफ कर दिया कि वह गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं करेंगे। गोकशी को लेकर योगी हमेशा से संवेदनशील रहे हैं। उनकी इस प्राथमिकता को ध्यान में रखते हुए गोकशी की घटनाओं पर सख्ती से रोक लगाने को कहा गया है। प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पंडा ने दो टूक कह दिया है कि गोकशी की घटना प्रकाश में आने पर एसओ और सीओ के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। वरिष्ठ अधिकारी भी बख्शे नहीं जाएंगे।


सोमवार की शाम योजना भवन में प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पंडा, डीजीपी जावीद अहमद, एडीजी कानून-व्यवस्था दलजीत सिंह चौधरी ने प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर जिलों के एसपी-एसएसपी, डीएम, कमिश्नर, जोनल आइजी और रेंज डीआइजी के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग की। इस कांफ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री की प्राथमिकता गिनाते हुए अधिकारियों ने अपराध एवं अपराधियों पर नियंत्रण, संगठित अपराध व माफिया के विरुद्ध कार्रवाई, महिला संबंधी अपराधों पर पूर्ण नियंत्रण एवं इसमें सम्मिलित अभियुक्तों के विरुद्ध तत्काल कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए।

कहा, सभी अधिकारी समय से अपने कार्यालय में बैठकर जनता की समस्याओं का निराकरण प्राथमिकता पर करें। व्यापारियों को बेहतर सुरक्षा, व्यापारी संगठनों से अच्छा तालमेल, सांप्रदायिक सौहार्द अक्षुण्ण रखने हेतु कठोरता से कार्यवाही एवं अन्य निर्देश दिए गये। पंडा ने स्पष्ट कहा कि किसी की लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।

गुंडों की सूची बनाकर करें कार्रवाई
प्रमुख सचिव गृह देबाशीष पंडा ने एडीजी कानून-व्यवस्था दलजीत सिंह चौधरी को निर्देश दिया कि वह पुलिस द्वारा अपराध नियंत्रण के लिए की गयी कार्रवाई का ब्यौरा निर्धारित प्रारूप पर मंगाए। पंडा ने कहा कि गुंडों, माफिया एवं अपराधियों की सूची बनाकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। पंडा ने पुलिस अभिरक्षा में हुई मौत की घटनाओं पर वरिष्ठ अधिकारियों पर भी कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

सांप्रदायिक सौहार्द और सोशल मीडिया पर नजर
सांप्रदायिक सौहार्द हर हाल में सुनिश्चित करने और शांति समितियों की बैठक करने के साथ ही लोगों से जरूरी संवाद पर भी जोर दिया गया है। मुकदमा दर्ज करने पर जोर देने के साथ ही सोशल मीडिया पर नजर रखने को कहा गया। अफवाह फैलाने और आपत्तिजनक पोस्ट किये जाने पर भी सख्ती बरतने की हिदायत दी है।

क्राइम मैपिंग द्वारा नजर
डीजीपी जावीद अहमद ने कहा कि सीसीटीएनएस के सहयोग से क्राइम मैपिंग द्वारा प्रदेश भर में अपराधों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश पहले भी दिये गये हैं। उन्होंने वाहन चोरी की घटनाओं पर कड़ी नजर रखने के लिए एंटी ऑटो थेप्ट स्क्वॉयड बनाने के लिए कहा गया है।

दलाल या कारखास के प्रवेश पर रोक
डीजीपी ने कहा है कि यदि किसी भी थाने में दलाल या कारखास होने की जानकारी संज्ञान में आयी तो कठोरतम कार्रवाई होगी। पंडा ने कहा कि सीएम की अपेक्षा के अनुरूप आम लोगों को सुरक्षा की भावना का एहसास होना चाहिए तथा जनता के प्रति पुलिस संवेदनशील बने।
 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:CM order if cow cut SHo and Co responsible it(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जिला पंचायत अध्यक्षों व प्रमुखों की सांसें अटकी, कभी भी जा सकता है पदसभी विभागों निगमों, परिषदों - समितियों के सलाहकार, अध्यक्ष- उपाध्यक्ष बर्खास्त
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »