PreviousNext

कैंपियरगंज विधायक फतेहबहादुर ने की योगी के लिए सीट छोडऩे की पेशकश

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 08:03 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 08:10 PM (IST)
कैंपियरगंज विधायक फतेहबहादुर ने की योगी के लिए सीट छोडऩे की पेशकशकैंपियरगंज विधायक फतेहबहादुर ने की योगी के लिए सीट छोडऩे की पेशकश
भाजपा विधायक फतेहबहादुर सिंह ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के लिए अपनी सीट छोडऩे की पेशकश की है। योगी से मिलकर उन्होंने अपनी यह मंशा जाहिर की।

गोरखपुर (जेएनएऩ)। कैंपियरगंज से नवनिर्वाचित भाजपा विधायक फतेहबहादुर सिंह ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी के लिए अपनी सीट छोडऩे की पेशकश की है। योगी से मिलकर उन्होंने अपनी यह मंशा जाहिर की। उन्होंने कहा कि चूंकि कैंपियरगंज सीट गोरखपुर संसदीय क्षेत्र में आती है, इसलिए हमारी इच्छा है कि मुख्यमंत्री वहां से चुनाव लड़कर विधानसभा की सदस्यता हासिल करें।  पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के नेता रहे बीरबहादुर सिंह के पुत्र फतेहबहादुर सिंह 2012 के चुनाव में कैंपियरगंज से एनसीपी के उम्मीदवार के रूप में जीते थे। इसके पूर्व वह बसपा में थे तथा मायावती सरकार में वनमंत्री रह चुके हैं। 2017 के चुनाव से पूर्व वह भाजपा में शामिल हुए। वह बड़े अंतर से चुनाव जीते हैं। वह छठी बार विधायक चुने गए हैं।
दूरभाष पर जागरण से बातचीत में फतेहबहादुर ने बताया कि मुख्यमंत्री बनने के बाद आदित्यनाथ योगी को विधानमंडल के किसी सदन की सदस्यता लेनी होगी। इसे ध्यान में रखते हुए हमने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे कैंपियरगंज सीट से चुनाव लड़ें। उनके लिए हम सीट खाली करने का तैयार हैं। मुख्यमंत्री को अपनी मंशा बताने के बाद हम विधानसभा अध्यक्ष को अपना इस्तीफा भेजने जा रहे हैं।  उन्होंने कहा कि कैंपियरगंज क्षेत्र का अधिकांश हिस्सा पनियरा विधानसभा क्षेत्र में रहा है, जहां से पूर्व मुख्यमंत्री और मेरे पिता बीरबहादुर सिंह विधायक चुने जाते रहे हैं। मुझे विश्वास है कि वहां से योगी के विधायक बनने से क्षेत्र का विकास होगा। 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Campierganj MLA Fateh Bahadur offer to leave the seat for the yogi(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

पांच कालिदास में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने किया ग्रह प्रवेशअव्यवस्थाओं के बीच नकल का रहा बोलबाला
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »