किताबी ज्ञान संग हुनर लेकर निकलें छात्र : पचौरी

Publish Date:Fri, 21 Apr 2017 01:01 AM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Apr 2017 01:01 AM (IST)
किताबी ज्ञान संग हुनर लेकर निकलें छात्र : पचौरीकिताबी ज्ञान संग हुनर लेकर निकलें छात्र : पचौरी
जागरण संवाददाता, कानपुर : लक्ष्य भेदने के लिए केवल किताबी ज्ञान पर्याप्त नहीं है। बगैर प्रैक्टिकल के

जागरण संवाददाता, कानपुर : लक्ष्य भेदने के लिए केवल किताबी ज्ञान पर्याप्त नहीं है। बगैर प्रैक्टिकल के यह ज्ञान अधूरा है तभी विज्ञान जैसे विषयों में प्रैक्टिकल को शामिल किया गया है। मंजिल पाने के लिए किताबी ज्ञान संग हुनर लेकर छात्र विश्वविद्यालय व कालेजों से पास होकर निकलें। यह बातें छत्रपति शाहू जी महाराज विश्वविद्यालय में शुरू हुए एजुफेस्ट के दौरान मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहीं।

प्रदेश में युवाओं के लिए अवसरों की कोई कमी नहीं है। इंफोर्मेशन टेक्नोलॉजी, टूरिज्म, ट्रांसपोटेशन, हेल्थ व एजुकेशन इन सभी क्षेत्रों में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। 30 से 40 फीसद पद खाली पड़े हुए हैं। इन पदों को भरने के लिए सरकार नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करेगी, लेकिन खुद को साबित करने के लिए आधा अधूरा नहीं बल्कि अपने क्षेत्र में संपूर्ण ज्ञान की आवश्यकता है। डिग्रीधारक छात्रों के लिए 10 से 15 दिन का एक ऐसा कोर्स होना चाहिए जो उन्हें यह बताए कि अपने क्षेत्र में कैसे काम करना है। उनका मंत्रालय इसके लिए खाका तैयार कर रहा है। विश्वविद्यालय के छात्रों को उसका लाभ मिलेगा। पहले आश्रम पद्यति के अंतर्गत छात्र पढ़ाई करते थे। वह पद्यति छात्रों को संपूर्ण रूप से तैयार करती थी। हमारा देश युवाओं का देश है जो विश्वगुरु व विश्व शक्ति बनने की दिशा में अग्रसर है। कुलपति प्रो. जेवी वैशम्पायन ने कहा कि सीएसजेएमयू में ई गवर्नेस लागू है। यहां 99 फीसद तक काम कैशलेस होते हैं। इसे और बढ़ाए जाने की तैयारी है। प्रति कुलपति प्रो. आरसी कटियार, प्रो. संजय स्वर्णकार, कुलसचिव राम चंद्र अवस्थी, वित्त नियंत्रक संध्या मोहन, डा. संदीप सिंह व डा. सिधांशु राय मौजूद थे।

--------------------------

पीने के पानी के तड़पे छात्र :

एजुफेस्ट में पीने के पानी के लिए गिलास न मिलने पर इस भीषण गर्मी में छात्र तड़प उठे। लोगों को चुल्लू में पानी भरकर अपना गला तर करना पड़ रहा था। फेस्ट में ओमर वैश्य इंटर कालेज, पं. दीनदयाल उपाध्याय इंटर कालेज व ज्वाला देवी इंटर कालेज समेत अन्य कालेजों के छात्र छात्राओं ने उच्च शिक्षा की संभावनाएं तलाशी।

इन विभागों के लगे स्टॉल :

-इंस्टीट्यूट आफ इंजीनिय¨रग एंड टेक्नोलॉजी, बिजनेस मैनेजमेंट, हेल्थ साइंसेज, बायो साइंसेज, होटल मैनेजमेंट, सोशल वर्क, फाइन आ‌र्ट्स, एडल्ट एजुकेशन, फार्मेसी, लाइफ साइंसेज, अंग्रेजी, फिजिकल एजुकेशन, शिक्षा विभाग

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    यह भी देखें