PreviousNext

हक को लेकर विभिन्न संगठनों ने भरी हुंकार

Publish Date:Fri, 21 Oct 2016 10:22 PM (IST) | Updated Date:Fri, 21 Oct 2016 10:22 PM (IST)
हक को लेकर विभिन्न संगठनों ने भरी हुंकार
गोंडा: शुक्रवार को इंजीनियरों, सफाईकर्मियों, आशा बहुओं, माकपा, भाकियू व छात्र संघर्ष समिति के कार्यक

गोंडा: शुक्रवार को इंजीनियरों, सफाईकर्मियों, आशा बहुओं, माकपा, भाकियू व छात्र संघर्ष समिति के कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया। कर्मचारियों ने एक स्वर में कहा कि जब तक मांगें पूरी नहीं होंगी, आंदोलन जारी रहेगा।उत्तर प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर्स संघ के पदाधिकारियों का धरना शुक्रवार 25वें दिन भी जारी रहा। जिला पंचायत

परिसर स्थित टीनशेड में सभा की अध्यक्षता इं. दिनेश तिवारी व संचालन इं.विनोद कुमार ने किया। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष इंद्रपाल तिवारी ने डिप्लोमा इंजीनियर्स की हड़ताल का समर्थन किया है। इं. राम समुझ शर्मा ने कहा कि जनसूचना अधिकार अधिनियम के तहत 27 सितंबर के बाद जारी चेकों की सूचना विभागीय अधिकारियों से मांगी जाएगी।

सफाई कर्मचारी संघ ने जिला पंचायत परिसर स्थित टीनशेड में धरना दिया और ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर पदोन्नति देने की मांग की। सफाई कर्मचारियों के वेतन में पेरोल व्यवस्था समाप्त करने, अंतरजनपदीय

तबादला आदेश जारी करने, 1900 ग्रेड पे दिए जाने, वेतन बजट एक मद में दिए जाने, न्याय पंचायत स्तर पर सुपरवाइजर तैनात करने, पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट जगदीश ¨सह को सौंपा गया। ज्ञापन देने वालों में मंडल अध्यक्ष नीबूलाल गौतम, जिलाध्यक्ष देवमणि शुक्ल, शिवराम शुक्ल आदि मौजूद रहे।

उधर भारतीय किसान यूनियन (अराजनैतिक) ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। जिलाध्यक्ष शिवराम उपाध्याय की अगुवाई में सौंपे गए ज्ञापन में किसानों को गन्ने के बकाया मूल्य का ब्याज दिलाने, शहर में अ‌र्द्धनिर्मित भवनों का निर्माण कार्य पूरा कराने, गरीब महिला अनीता देवी को आसरा आवास दिलाने, वर्ष 2015-16 में नहरों के पानी से बर्बाद हुई फसल का मुआवजा दिलाने, गन्ने का मूल्य 400 रुपये ¨क्वटल करने आदि की मांग की। ज्ञापन देने वालों में मंडल अध्यक्ष किशन बिहारी वर्मा, सदानंद दूबे आदि शामिल रहे। जिला महिला अस्पताल से आशा बहुओं ने रैली निकाल प्रदर्शन किया और वेतन बढ़ाने की मांग की।

उधर भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मा‌र्क्सवादी ने डीएम को ज्ञापन सौंपा। रसोइयों का नवीनीकरण समाप्त करने, सरकारी अस्पतालों के डॉक्टरों की निजी प्रैक्टिस पर रोक लगाने, श्रम विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार समाप्त किए जाने सहित अन्य मांग की गई है। जिला सचिव राजीव कुमार ने कहा कि मांगों की अनदेखी की जा रही है। मांगों पर विचार नहीं किया गया तो अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया जाएगा।

लखनऊ जाएंगे किसान

-भारतीय किसान यूनियन (राष्ट्रवादी) की महापंचायत 24 अक्टूबर को लखनऊ में आयोजित की गई है। यह जानकारी देते हुए जिला प्रभारी उत्तम प्रसाद दूबे ने बताया कि महापंचायत में भाग लेने के लिए जिले से 500 किसान जाएंगे।

समस्याओं पर हुई चर्चा

-टयूबवेल टेक्नीकल इंपलाइज एसोसिएशन ¨सचाई विभाग के पदाधिकारियों की बैठक शुक्रवार को नलकूप खंड में हुई, जिसमें कर्मचारियों की समस्याओं पर चर्चा की गई। बैठक को संबोधित करते हुए अध्यक्ष बीके पांडेय ने कहा कि सरकार कर्मचारियों के प्रति संवेदनशील नहीं है। जिससे संवर्ग दुखी है। उन्होंने कहा कि यदि जल्द ही 11 सूत्रीय मांगों को पूरा नहीं किया गया तो किसानों का विरोध सहने के लिए सरकार तैयार रहे। सभा को बलभद्र शुक्ल, रंजीत श्रीवास्तव, पवन कुमार, शिवकुमार मिश्र, डीके डंगवाल, अजय वर्मा, अनुपम श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    वॉल राइ¨टग नहीं हुई, लाभार्थी संख्या मिली कमकाउंसि¨लग में कम विकल्प देने पर भड़कीं शिक्षिकाएं
    यह भी देखें