PreviousNext

रद्दी हुए आवेदन, ऑनलाइन मिलेगी मान्यता

Publish Date:Mon, 19 Jun 2017 07:20 PM (IST) | Updated Date:Mon, 19 Jun 2017 07:20 PM (IST)
रद्दी हुए आवेदन, ऑनलाइन मिलेगी मान्यतारद्दी हुए आवेदन, ऑनलाइन मिलेगी मान्यता
जागरण संवाददाता, एटा : काफी इंतजार के बाद माध्यमिक शिक्षा विभाग ने मान्यता को लेकर अपनी स्थिति स्पष्

जागरण संवाददाता, एटा : काफी इंतजार के बाद माध्यमिक शिक्षा विभाग ने मान्यता को लेकर अपनी स्थिति स्पष्ट कर दी है। स्कूलों का निर्माण कराकर विभाग तक पहुंची मान्यता आवेदनों की दर्जनों फाइलें भी अब नए दिशा-निर्देशों के साथ रद्दी की टोकरी में पहुंच जाएंगी। मान्यता के लिए अब तय किया गया है कि ऑनलाइन ही आवेदन किए जाएंगे और जो भी रिपोर्ट विभाग से लेकर राजस्व व बोर्ड समिति स्तर पर लगाई जाएंगी वह भी ऑनलाइन होंगी। ऐसी स्थिति में मान्यताएं लेने के दौरान बरती जाने वाली अनियमितताएं और अभिलेखों में गड़बड़ी थम जाएगी।

महकमा कक्षा 9 व 11 के पंजीकरण बोर्ड परीक्षा आवेदन, छात्रवृत्ति और प्रवेश पत्र भी ऑनलाइन जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर चुका है। मान्यता का मामला पिछली सरकार में भी ऑनलाइन किए जाने को लेकर लटका रहा और अंत तक मान्यता का कार्य मैनुअल आवेदन से ही चलता रहा। तीन महीने पहले प्रदेश में सरकार बनते ही नई मान्यताओं पर रोक लगा दी गई थी। कारण यही था कि मान्यताओं में चलने वाली फर्जीबाड़ा और बिना मानक पूर्ति के ही स्कूल संचालित होना जैसी स्थितियों पर रोक लगाना था। अब माध्यमिक शिक्षा निदेशालय ने स्पष्ट कर दिया है कि अब तक हाईस्कूल या इंटरमीडिएट की मान्यता के लिए जो आवेदन जिला या बोर्ड स्तर पर मैनुअली किए जा चुके हैं। उनको रद माना जाए और जुलाई से ऑनलाइन आवेदन ही स्वीकार किए जाएंगे। निर्देशों के बाद नई मान्यता की कतार में लगे जिले के भी 40 से ज्यादा स्कूलों के संचालन की तैयारी कर रहे लोगों को झटका लगा है।

पूर्व का आवेदन व्यर्थ चला गया, अब उन्हें भी नए सिरे से आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन ही पूरी करनी होगी। इतनी राहत जरूर मानी जा रही है कि ऑनलाइन प्रक्रिया के अंतर्गत पात्रता की कसौटी पर खरे उतरने वाले स्कूलों को जुलाई में ही मान्यताएं मिल जाएंगी और नए सत्र से ही स्कूल शुरू हो सकेंगे। प्रक्रिया की खास बात यह होगी कि जिला स्तर से रिपोर्ट ऑनलाइन लगानी होगी। वहीं राजस्व अभिलेखों का रिकार्ड भी आवेदन के साथ अपलोड करना होगा। इससे भू-अभिलेखों की हेरा-फेरी कर मान्यता हथियाना आसान नहीं होगा। डीआइओएस एसपी यादव ने बताया कि अग्रिम निर्देश मिलते ही तदानुसार मान्यता संबंधी कार्रवाई की जाएगी।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    आठों ब्लॉक पर लगेगी योग की पाठशालासबके सहयोग से समाज को देंगे नई दिशा
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें