PreviousNext

जहरखुरानों पर रहेगी रोडवेज की नजर

Publish Date:Wed, 30 Oct 2013 07:27 PM (IST) | Updated Date:Wed, 30 Oct 2013 07:29 PM (IST)

निज प्रतिनिधि, एटा: त्योहार के मौके पर लंबे मार्गो के बीच यात्रियों की भीड़भाड़ में यात्री सेवाओं के अलावा रोडवेज ने मानवीयता दिखाने की पहल भी की है। इस बार दीपोत्सव पर होने वाली जहरखुरानी की घटनाओं से यात्रियों को बचाने और शिकार होने वालों की मदद को चालक-परिचालकों को मानवता के नाते फर्ज निभाने को चेताया गया है। ताकि यहां तक संभव हो जहरखुरानी की घटनाओं को रोका जा सके।

वैसे तो परिवहन निगम यात्री सुविधाओं को त्योहार पर उपलब्ध कराने के लिए पहले से ही तैयारी कर चुका है। चूंकि दिल्ली मार्ग पर त्योहारों के समय तमाम लोग जहरखुरानों का शिकार होकर त्योहार की खुशियां मनाने के बजाए लुटे-पिटे घर या अस्पताल पहुंचने के मामले सामने आते रहे हैं। ऐसे में एटा डिपो ने अपने स्तर से ही मानवता का पालन कर होने वाली घटनाओं को रोकने के लिए अपने चालक-परिचालकों को सतर्क किया है। इस पहल के अंतर्गत त्योहार पर भीड़भाड़ के दिनों रोडवेज कर्मियों को चेताया गया है कि वह बस संचालन के दौरान ऐसे संदिग्ध लोगों पर नजर रखें, जोकि जहरखुरान या फिर जेबकटी जैसी घटनाओं को अंजाम देने को लेकर उनकी नजरों में हों या फिर प्रतीत हों। ऐसे लोगों के प्रति टिकट बनाने के दौरान ही यात्रियों को भी स्वयं व सामान की सुरक्षा के लिए सचेत करते रहें। जहां भी जरूरत हो वहां पुलिस की भी मदद लें। यह भी कहा गया है कि हर स्टोपेज पर बस में यात्रियों की स्थिति का भी एक बार घूमकर जायजा लें कि कहीं यात्रा के बीच कोई यात्री जहरखुरानी का शिकार तो नहीं पड़ा। यदि कोई भी ऐसी स्थिति सामने आए तो मार्ग पर जो भी अस्पताल या स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध करा सकें, उसमें मदद करें। एक अक्टूबर से त्योहारी सीजन मानकर चल रहे विभाग ने अपने कर्मचारियों को पहले से ही सचेत कर कुछ नया करने का जोश पैदा किया है। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक संजीव यादव कहते हैं कि यह पहल सरकारी नहीं है, लेकिन मानवता हर किसी का फर्ज है। इसी के तहत रोडवेज कर्मी जहरखुरानी से बचाव को पूरा प्रयास करेंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    शादी-बीमारी अनुदान को 481 नामों पर मुहरश्रमदान कर जगाई स्वच्छता की अलख
    यह भी देखें
    अपनी प्रतिक्रिया दें
      लॉग इन करें
    अपनी भाषा चुनें




    Characters remaining

    Captcha:

    + =


    आपकी प्रतिक्रिया

      मिलती जुलती

      यह भी देखें
      Close