ब्लैकलिस्टिंग की कार्रवाई को हाईकोर्ट में देंगे चुनौती

Publish Date:Mon, 17 Jul 2017 01:00 AM (IST) | Updated Date:Mon, 17 Jul 2017 01:00 AM (IST)
ब्लैकलिस्टिंग की कार्रवाई को हाईकोर्ट में देंगे चुनौतीब्लैकलिस्टिंग की कार्रवाई को हाईकोर्ट में देंगे चुनौती
जासं, इलाहाबाद : इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ भवन पर रविवार को एक बैठक में छह छात्रों को ब्लैक

जासं, इलाहाबाद : इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ भवन पर रविवार को एक बैठक में छह छात्रों को ब्लैकलिस्टिंग की कार्रवाई को हाईकोर्ट में चुनौती देने का फैसला किया है। इसके अलावा कुलपति के खिलाफ दायर राष्ट्रदोह के मुकदमे, हास्टल की फीस वृद्धि, हास्टल आवंटन की समस्याओं पर भी चर्चा की गई।

बैठक में ये प्रस्ताव पारित किया गया कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय का प्रत्येक छात्र यहां के शिक्षकों के गौरवशाली परंपरा का आदर करता है। छात्र और शिक्षकों के बीच सौहार्द और सम्मानजनक संबंधों की पैरोकारी करता है और शिक्षक संघ से यह अपील करता है कि प्रस्तावित शिक्षक संघ की बैठक में छात्रों की मुद्दों पर गुणदोष के आधार पर विचार करें। छात्रों ने शिक्षकों से अपील की है कि शिक्षक संघ के अध्यक्ष प्रो. राम सेवक दूबे के बहकावे में ना आवें। क्योंकि जब से वह अध्यक्ष चुने गए हैं, संघर्ष तो दूर की बात वो किसी भी शिक्षक के हित में बात तक नहीं किए हैं। चाहे वो प्रोफेसर सत्यनारायण का मुद्दा रहा हो या किसी अन्य शिक्षक के उत्पीड़न। पूर्व उपाध्यक्ष विक्रांत सिंह ने कहा कि प्रोफेसर राम सेवक दुबे को कोई अधिकार नहीं है कि वो शिक्षकों की गौरवशाली परंपरा को तोड़ें। नीरज प्रताप सिंह ने कहा कि गुरुजनों से प्रार्थना है कि वह छात्रों के मुद्दों पर अपने अंतरात्मा की आवाज पर फैसला लेकर नैसर्गिक न्याय स्थापित करें।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    यह भी देखें