बचत एवं निवेश

बचत एवं निवेश

इनकम टैक्स एक्ट की तमाम धाराएं करदाता को निवेश कर इनकम टैक्स बचाने का विकल्प देती हैं। इसके साथ ही निवेश के अलावा कुछ मदों में खर्चा करके भी करदाता अपना टैक्स बचा सकते हैं। सामान्य तौर पर करदाता धारा 80 सी के अंतर्गत आने वाले विकल्पों में बचत करके 1.50 लाख रुपए तक की राशि कर कर छूट का लाभ उठाते हैं।

जागरण से खबरें

यह भी देखें