वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी)

वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी)

गुड्स एवं सर्विस टैक्स (जीएसटी) के अंतर्गत 1200 से अधिक वस्तुओं और 500 से ज्यादा सेवाओं पर लगने वाले टैक्स की दर अब तय हो चुकी है। टैक्स की दरों में बदलाव का देश की अर्थव्यवस्था से लेकर आपकी जेब तक असर पड़ना तय है। जीएसटी पर अपनी इस विशेष कवरेज में हम एक्सपर्ट की मदद से आपको इस नए टैक्स कानून की बारीकियों को समझाने का प्रयास करेंगे। साथ ही जीएसटी से जुड़े आपके सवालों के जवाब भी देंगे।

जागरण से खबरें

यह भी देखें