Previous

इस समय भाई की कलाई पर बांधेगी राखी तो मिलेगी दीर्घायु

Publish Date:Wed, 02 Aug 2017 03:53 PM (IST) | Updated Date:Wed, 02 Aug 2017 03:53 PM (IST)
इस समय भाई की कलाई पर बांधेगी राखी तो मिलेगी दीर्घायुइस समय भाई की कलाई पर बांधेगी राखी तो मिलेगी दीर्घायु
ज्‍योतषि जगत में इन दिनो रक्षाबंधन को लेकर बहस छिड़ी हुई है। वो कौन सी शुभ घड़ी है जब बहन भाई के हाथों में राखी बांध सकती है। मान्‍यता है कि भद्राकाल व सूतक के दौरान राखी नहीं बां

रक्षाबंधन के दिन है चंद्रग्रहण

सावन मास के अंतिम दिन आता है रक्षा बंधन का पर्व। जिसके बाद ही शुभ कार्यों का आरंभ होता है। इस वर्ष रक्षा बंधन के दिन ही चंद्र ग्रहण है। कुरुक्षेत्र के धार्मिक शोध केंद्र के संचालक प. ऋषभ वत्स ने बताया कि रक्षा बंधन ही सावन मास का अंतिम दिन होता है। धर्मिक वेदों-ग्रंथों के अनुसार सावन मास में विवाह, शादी, मकान की नींव, मुहूर्त इत्यादि शुभ कार्य नहीं किए जाते। सावन मास के बाद ही शुभ कार्यों की शुरुआत होती है। जब घर के पुरुष सावन के समापन पर काम के लिए निकलते हैं तो बहनें भाईयों को रक्षा सूत्र बांधती हैं। सावन के समापन पर पूर्णिमा के दिन ही रक्षा बंधन होता है। 

 

ये समय है राखी के लिए शुभ

इस बार पूर्णिमा के दिन ही चंद्र ग्रहण है। वत्स ने बताया कि रक्षा बंधन के लिए 1.45 से लेकर 4.35 तक का समय है। अगर इससे पहले किसी कारणवश जाना पड़ जाए तो चावल दान कर रक्षा सूत्र बांधा जा सकता है और दुष्परिणामों से बचा जा सकता है। रक्षा बंधन का त्योहार भाई-बहन के रिश्ते और उसमें बसे प्यार को मजबूत करता है।इस बार रक्षा बंधन 7 अगस्त को है। उन्होंने बताया रक्षा बंधन वाले दिन चंद्र ग्रहण रात में 10.52 से शुरू होकर 12.49 तक रहेगा लेकिन चंद्र ग्रहण से 9 घंटे पहले ही सूतक लग जाएगा। कहा जाता है कि सूतक में राखी बांधना अशुभ रहता है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:right time to celebrate raksha bandhan in eclipse(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कन्‍या राशि वाली महिलाएं होती हैं खूबसूरत, ये हैं कुछ पॉपुलर नाम
यह भी देखें