Dainik Jagran Hindi News

www.jagran.com
July 29,2014

Onion for health

प्याज से प्यार सेहत की सौगात

प्याज को गुणों की खान यूं ही नहीं कहा जाता। इसे काटते समय आंख से आंसू जरूर निकलते हैं, लेकिन प्याज में ऐसे तमाम गुण हैं, जो सेहत और सौंदर्य दोनों के लिए उपयोगी हैं। आइए जानते हैं इसके अन्य गुणों के बारे में।

और पढ़ें

Melon Milano

मेलन मिलानो

1-2 तरबूज के ताजा कटे हुए टुकड़े, 15 मिली. मेलन सिरप, 10 मिली. नीबू का रस, 2-3 ताजा पुदीने के पत्ते, क्रश की हुई बर्फ।

और पढ़ें

Fashion Quary

फैशन जिज्ञासा

जंपसूट्स के साथ ब्रेसलेट्स और रिंग्स जैसी एक्सेसरीज बेहद खूबसूरत लगती हैं। सिंपल नेकलाइन वाला जंपसूट चुनें। इसके साथ चौड़ी बेल्ट भी अच्छी लगेगी।

और पढ़ें

aise bani film

हवा हवाई: जिंदगी के सबक बच्चों से

अमोल गुप्ते अलग किस्म के फिल्मकार हैं। पिछले दिनों आई फिल्म हवा हवाई भेदभाव व असमानता के खिलाफ सार्थक फिल्म है, जिसमें गहरा आशावाद झलकता है। घोर मुश्किलों के बीच महत्वाकांक्षाओं व इच्छाओं की राह पर चलने का सबक देती है ...

और पढ़ें

Gudia

गुडि़या

उर्दू लेखक व फिल्म निर्देशक ख्वाजा अहमद अब्बास का जन्म 7 जून 1914 को पानीपत में हुआ। उन्होंने डॉक्टर कोटनिस की अमर कहानी, श्री चार सौ बीस, बॉबी और मेरा नाम जोकर जैसी फिल्मों की कहानियां, स्क्रीन प्ले और संवाद लिखे। स...

और पढ़ें

Humsafar

दोस्ती है बुनियाद हमारे रिश्ते की: शक्ति आनंद-सई देवधर

धारावाहिक सास भी कभी बहू थी, नच बलिए, क्राइम पेट्रोल से चर्चित शक्ति आनंद छोटे पर्दे का चर्चित चेहरा हैं। फिलहाल शक्ति महाराणा प्रताप में महाराजा उदय सिंह का किरदार निभा रहे हैं। इनकी हमसफर सई देवधर भी टीवी कलाकार हैं। ...

और पढ़ें

Kuch to log kahenge

कुछ तो लोग कहेंगे

चाहे सास-बहू के आपसी रिश्ते की बात हो या स्त्री की आर्थिक आजादी का मामला। हर मुद्दे पर लोग नकारात्मक टीका-टिप्पणी करने से बाज नहीं आते। आइए रूबरू होते है पाठिकाओं के कुछ ऐसे ही अनुभवों से।

और पढ़ें

Old age

हमें भी चाहिए खुला आसमां

सामाजिक बदलाव के इस दौर में भारतीय बुजुर्गो की जीवनशैली तेजी से बदल रही है। अब वे अपने ढंग से जीने में यकीन रखते हैं। आइए रूबरू होते हैं, उनकी जिंदगी की इस नई तसवीर से।

Cover story

धुन के मंजीरे पर मन की थाप

मैं किससे कहती कि कि चन में हर रोज लंच-डिनर बनाने और घर को सजाने जैसे कामों से उकता गई हूं। मैं भी यायावर की तरह घूमना चाहती हूं। खुली हवा संग बहना चाहती हूं। मेरे मन के अंधेरे किंवाड़ों के पीछे छिपी, ठिठकी ऐसी कई भावनाए...