PreviousNext

कब्र से निकाला 8 महीने पहले दफनाए बच्चे का शव

Publish Date:Mon, 19 Jun 2017 03:05 PM (IST) | Updated Date:Mon, 19 Jun 2017 03:05 PM (IST)
कब्र से निकाला 8 महीने पहले दफनाए बच्चे का शवकब्र से निकाला 8 महीने पहले दफनाए बच्चे का शव
पीडि़ता ने रिपोर्ट में यह भी आरोप लगाया था कि उसके पेट में बच्चा है और वह गैंगरेप के चलते हुआ है।

नागौर। श्रीबालाजी थाना क्षेत्र के अलाय गांव का चर्चित गैंगरेप मामला एक बार फिर से चर्चा में आ गया है।  

पीडि़ता द्वारा उसके मृत बच्चे का दुबारा डीएनए जांच की मांग के बाद पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी रविवार को अलाय पहुंचे तथा बालक का दफनाया गया शव निकालकर डीएनए टेस्ट के लिए सैम्पल लिए।  

इस दौरान नागौर एसडीएम परसाराम टाक, मकराना सीओ पूनमसिंह व नागौर जेएलएन अस्पताल के चिकित्सकों की टीम मौजूद रही। टीम ने गड़े शव को बाहर निकाल कर डीएनए के लिए सैंपल लिए। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हो गई तथा बच्चे का शव निकालना चर्चा का विषय बन गया।

गौरतलब है कि गत वर्ष 8 अगस्त को श्रीबालाजी थाने में रिपोर्ट देकर अलाय निवासी आरएसी कांस्टेबल की पत्नी ने आरोप लगाया कि गांव के एक शिक्षक कैलाश, पुलिसकर्मी सुभाष व एक अन्य युवक सहीराम ने उसके साथ कई बार गैंगरेप किया।  

पीडि़ता ने रिपोर्ट में यह भी आरोप लगाया था कि उसके पेट में बच्चा है और वह गैंगरेप के चलते हुआ है। मामला दर्ज कराने के कुछ समय बाद यानी 26 अगस्त को पीडि़ता ने बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में बालक को जन्म दिया, लेकिन जन्म के 5 दिन बाद ही नागौर के जेएलएन अस्पताल में बच्चे की मौत हो गई। 

                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                        

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:The body of a burial kidnapped 8 months ago from the grave(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

राजस्थान के किसानों ने किया सद्बुद्धि यज्ञराजस्थान में किसान आंदोलन अब गांवों से ही चलेगा
यह भी देखें