PreviousNext

गन्ने व हल्दी की फसल का जायजा लिया

Publish Date:Sat, 01 Sep 2012 06:46 PM (IST) | Updated Date:Sat, 01 Sep 2012 06:48 PM (IST)
गन्ने व हल्दी की फसल का जायजा लिया

संवाद सहयोगी, गुरदासपुर

कृषि विभाग पंजाब की उच्चस्तरीय टीम की ओर से ब्लाक बटाला के गांव तलवंडी लाल सिंह में स्थित किसान व जिला कृषि उत्पादन कमेटी सदस्य संदीप सिंह रंधावा के फार्म का दौरा किया गया। इस टीम में मुख्य कृषि अधिकारी डा. रवि कुमार सभ्रवाल, जिला सिखलाई अधिकारी होशियारपुर डा.चमन लाल विशिष्ट, मुख्य कृषि अधिकारी डा. कुलबीर सिंह, डा. रमेश कुमार शर्मा, डा. अमरीक सिंह व डा. जसबीर सिंह भी उपस्थित थे।

फार्म में गन्ने व हल्दी की फसल का मुआयना करने के बाद डा. रवि कुमार ने कहा कि गन्ने की फसल पर गन्ने के घोड़े का हमला काफी हद तक हुआ है। जिससे किसानों को गन्ने के मुंए बनाने में मुश्किल पेश आ रही है। उन्होंने कहा कि इस कीड़े के हमले से गन्ने के झाड़ पर प्रभाव पड़ता है। यदि हमला अधिक हो तो चीनी का उत्पादन भी कम होता है। उन्होंने कहा कि यह कीड़ा अप्रैल-मई व अगस्त-सितंबर महीनों के दौरान अधिक हमला करता है। इस कीड़े के हमले से फसल के पत्ते पीले हो जाते हैं तथा बाद में फसल के पत्ते काले हो जाते हैं। कीड़े की कुदरती रोकथाम के लिए अपीरीकेरिया नाम का मित्र कीड़ा गन्ने की फसल के पत्तों पर मौजूद होता है जो इस कीड़े के बच्चे व बड़े कीड़ों को खा जाता है। उन्होंने कहा कि यदि हमला अधिक हो तो 400 मिली लीटर कलोरोपाईरीफोस प्रति एकड़ के हिसाब से 100 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करना चाहिए। डा. कुलबीर सिंह ने हल्दी की फसल संबंधी कहा कि यह फसल पंजाब में धान व गेहूं के फसली चक्र का अच्छा बदल हो सकती है। यदि आवश्यक मात्रा में प्रसैसिंग प्लांट लगाए जाएं। उन्होंने कहा कि किसान आपसी समूह बनाकर प्रोसेसिंग प्लांट लगा सकते हैं। इस संबंधी बागवानी विभाग द्वारा प्रदेश बागबानी मिशन के तहत सब्सिडी भी दी जाती है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर

कमेंट करें

    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)
    डेढ़ साल से गायब कनीय अभियंतापंचायतों में शिविर आयोजित कर बंट रही राशि
    यह भी देखें

    अपनी प्रतिक्रिया दें

    अपनी भाषा चुनें
    English Hindi


    Characters remaining

    लॉग इन करें

    निम्न जानकारी पूर्ण करें

    Name:


    Email:


    Captcha:
    + =


     

      यह भी देखें
      Close