x

हनुमान चालीसा की इन चौपाइयों के वाचन मात्र से ही दूर होते हैं सारे कष्ट

Publish Date:Mon, 04 Apr 2016 03:13 PM (IST) | Updated Date:Tue, 14 Mar 2017 08:43 AM (IST)
हनुमान चालीसा की इन चौपाइयों के वाचन मात्र से ही दूर होते हैं सारे कष्ट
1/8

हनुमानजी की स्तुति 'हनुमान चालीसा' से हम सभी परिचित हैं। हनुमान चालीसा की रचना गोस्वामी तुलसीदास जी ने की थी। हिंदू धर्म ग्रंथों में उल्लेखित है कि बाल्यकाल में जब हनुमानजी ने सूर्य को मुंह में रख लिया तब सूर्य को मुक्त कराने के लिए देवराज इंद्र ने हनुमानजी पर शस्त्र से प्रहार किया। इसके बाद हनुमान जी मूर्छित हो गए। हनुमानजी के मूर्छित होने की बात जब वायु देव को पता चली तो काफी नाराज हुए। लेकिन जब सभी देवताओं को पता चला कि हनुमानजी भगवान शिव के रुद्र अवतार हैं, तब सभी देवताओं ने हनुमानजी को कई शक्तियां दीं।

कमेंट करें

यह भी देखें