कहीं देर ना हो जाए, अलार्म बजने से पहले जागो रे...

  • अलार्म अभी बजा नहीं, अभी ये ब्रिज गिरा नहीं, किसान अभी मरा नहीं, रेप अभी हुआ नहीं, खिलाड़ी अभी हारा नहीं...! जब तक कोई अलार्म नहीं बजता, तब तक हम उठते नहीं।

  • कोई रेप की घटना होती है, तो हम कैंडल मार्च लेकर निकल पड़ते हैं। लेकिन इससे पहले हम अपने कामों में मस्तै रहते हैं।

  • कोई ब्रिज गिरता है और उसकी वजह से लोगों की जान चली जाती है, तब हम एक्टिव नजर आते हैं। ब्रिज गिरने के बाद हम दोषियों के खिलाफ मोर्चा लेकर सड़क पर उतर जाते हैं।

  • जब तक कोई किसान आत्मगहत्या नहीं करता, तब तक हमारा इस ओर ध्या न ही नहीं जाता कि हमारे किसान किस हाल में जीने को मजबूर हैं। हालात इतने बिगड़ गए हैं कि वो आत्ममहत्या करने को मजबूर हैं।

  • हमारे खिलाड़ी जब किसी बड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में हार जाते हैं, तब हमें उन्हें मिलने वाली बुनियादी सुविधाओं का ख्याल आता है। इससे पहले हमारा खिलाड़ियों की ओर ध्यान ही नहीं जाता है।

  • जब रेप, ब्रिज के गिरने और किसानों के आत्म हत्यान की खबर सुर्खियों में छा जाती है, तब हम सबको बहुत गुस्सा आता है। ये गुस्सां हम सड़क से सोशल मीडिया तक पर जाहिर करते हैं।

Tata Tea Jaago Re initiative in association with Jagran

उबले नींबू का पानी पीजिए और फिर देखें ये चमत्‍कारी फायदे उबले नींबू का पानी पीजिए

  • हां
  • नही
  • पता नही
vote now