PreviousNext

..जब भारत ने पाक से कहा, हाफिज पर मुकदमा चलाओ और सजा दो

Publish Date:Wed, 01 Mar 2017 08:07 PM (IST) | Updated Date:Thu, 02 Mar 2017 08:49 AM (IST)
..जब भारत ने पाक से कहा, हाफिज पर मुकदमा चलाओ और सजा दो..जब भारत ने पाक से कहा, हाफिज पर मुकदमा चलाओ और सजा दो
पाकिस्तान की ओर से 24 भारतीय गवाहों का बयान रिकॉर्ड कराने के लिए भेजे गए आग्रह के जवाब में भारत ने यह मांग रखी है।

लाहौर, प्रेट्र : पाकिस्तान ने दावा किया है कि भारत ने 2008 के मुंबई हमले की फिर से जांच और जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद पर मुकदमा चलाने को कहा है। सईद आतंकरोधी कानून के तहत इस समय लाहौर में नजरबंद है। पाकिस्तान की ओर से 24 भारतीय गवाहों का बयान रिकॉर्ड कराने के लिए भेजे गए आग्रह के जवाब में भारत ने यह मांग रखी है।

पाकिस्तानी गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, भारत ने हमारे आग्रह को तवज्जो देने की बजाय मामले की फिर से जांच की मांग की है। साथ ही सईद और उपलब्ध कराए गए साक्ष्य के आधार पर लश्कर-ए-तय्यबा कमांडर जकीउर रहमान लखवी पर मुकदमा चलाने की भी मांग की है। पाकिस्तान ने 30 जनवरी को सईद और जमात-उद-दावा व फलाह-ए-इंसानियत के चार नेताओं को नजरबंद कर दिया था। मुंबई हमले के बाद भी सईद नजरबंद किया गया था, लेकिन 2009 में अदालत ने उसे रिहा कर दिया।

पाकिस्तानी गृह मंत्राालय के अधिकारी ने कहा कि मामले को निष्कर्ष तक पहुंचाने के लिए भारतीय गवाहों के बयान की जरूरत है। यदि सुबूत हो तो पाकिस्तान को मुंबई हमले में किसी पर भी मुकदमा चलाने में कोई दिक्कत नहीं है। भारत हाफिज के खिलाफ ठोस सुबूत देता है तो हम उसके खिलाफ भी मुकदमा चलाने की कोशिश करेंगे। लखवी को भी ठोस सुबूतों के अभाव में ही जमानत मिली थी।

गौरतलब है कि भारत कई बार इस मामले की जल्द से जल्द सुनवाई पूरी करने का आग्रह पाकिस्तान से कर चुका है। भारत का कहना है कि गुनहगारों को सजा दिलाने के लिए पाकिस्तान के साथ काफी प्रमाण साझा किए गए हैं। इसके बावजूद पाकिस्तान किसी न किसी बहाने मामले की सुनवाई टालता रहता है। सोमवार को लगातार 17वीं बार इस मामले की आतंकरेाधी अदालत में सुनवाई नहीं हुई। अब आठ मार्च की सुनवाई में अदालत को भारत के जवाब से अवगत कराए जाने की उम्मीद है।

नवंबर 2008 में मुंबई में कई जगहों पर हुए हमले में 166 लोग मारे गए थे। लश्कर के 10 आतंकियों ने इसे अंजाम दिया था। इनमें से नौ को पुलिस ने मार गिराया था। जीवित पकड़ा गया एकमात्र हमलावर अजमल कसाब फांसी पर लटकाया जा चुका है। वहीं, पाकिस्तान में हमले के मास्टरमाइंड लखवी को करीब 22 महीने पहले जमानत दे दी गई थी। फिलहाल वह किसी अज्ञात जगह पर है। मामले के छह अन्य आरोपी रावलपिंडी के अदियाला जेल में बंद हैं।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Pakistan claim India want re investigation of the Mumbai attacks(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

ईसीओ सदस्यों में और निकटता चाहते हैं नवाजप्रधानमंत्री थेरेसा मे को ब्रेग्जिट विधेयक पर करना पड़ा पहली संसदीय हार का सामना
यह भी देखें