PreviousNext

पाक सीनेट में जाधव की फांसी निलंबन पर होगी चर्चा

Publish Date:Mon, 05 Jun 2017 06:55 PM (IST) | Updated Date:Mon, 05 Jun 2017 06:55 PM (IST)
पाक सीनेट में जाधव की फांसी निलंबन पर होगी चर्चापाक सीनेट में जाधव की फांसी निलंबन पर होगी चर्चा
हक ने कहा कि जाधव की गिरफ्तारी एक बड़ी उपलब्धि थी। फिर भी पाकिस्तान हाथ में आया हुआ अवसर गंवा बैठा।

इस्लामाबाद, आइएएनएस। अंतरराष्ट्रीय अदालत (आइसीजे) द्वारा कुलभूषण जाधव की फांसी निलंबित किए जाने के बाद से पाकिस्तानी राजनीतिक गलियारे में असंतोष फैला हुआ है। आइसीजे के आदेश पर पाकिस्तानी सीनेट में एक चर्चा प्रस्ताव सोमवार को पेश किया गया। यह प्रस्ताव जमात-ए-इस्लामी सीनेटर सिराजुल हक ने पेश किया है। भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है।

हक ने कहा कि आइसीजे के आदेश के बाद लोगों ने बयान दिए। कहा जा रहा है कि आइसीजे ने संकेत दिया है कि पाकिस्तान इस मामले की पैरवी के लिए पूरी तरह से तैयार नहीं है। उन्होंने कहा कि जाधव मामले में पाकिस्तान ने उम्मीदों के मुताबिक काम नहीं किया। इससे देश को शर्मिदा होना पड़ा है।

हक ने कहा कि जाधव की गिरफ्तारी एक बड़ी उपलब्धि थी। फिर भी पाकिस्तान हाथ में आया हुआ अवसर गंवा बैठा। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जाधव और भारत की विध्वंसक गतिविधि के बारे में ठोस सुबूत पेश करने में पाकिस्तान नाकाम रहा।

हक ने दावा किया कि जाधव के मामले में आइसीजे ने अपने आदेश में भारत का पक्ष लिया है। जाधव मामले में भारत लगातार पाकिस्तान को धमका रहा है। सीनेट के चेयरमैन राजा रब्बानी ने हक की दलीलों की सुनवाई की और चर्चा के लिए उनका प्रस्ताव मंजूर कर लिया।

यह भी पढ़ें: क्‍या इस मकसद से पाकिस्‍तान ने रची है कुलभूषण जाधव को फंसाने की साजिश?

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Jadhav hanging suspension discussed in Pak Senate(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

शैंपू जैसी रोजमर्रा की चीजों में कैंसर कारक रसायनऑस्ट्रेलिया: हिजाब के कारण छात्राओं को करियर एक्सपो से निकाला
यह भी देखें