PreviousNext

ईरान फिर से अपना मिसाइल विकास कार्यक्रम शुरू करेगा

Publish Date:Sun, 13 Aug 2017 07:03 PM (IST) | Updated Date:Mon, 14 Aug 2017 07:37 AM (IST)
ईरान फिर से अपना मिसाइल विकास कार्यक्रम शुरू करेगाईरान फिर से अपना मिसाइल विकास कार्यक्रम शुरू करेगा
डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से अमेरिका और ईरान के संबंध लगातार बिगड़ते गए हैं। ट्रंप चुनाव के दौर से ही ईरान के साथ हुए समझौते को फिजूल बता रहे थे।

तेहरान, एएफपी। ईरान की संसद ने रविवार को 52 करोड़ डॉलर की धनराशि देश के मिसाइल विकास कार्यक्रम और रिवोल्यूशनरी गार्ड के विदेशी अभियानों के लिए स्वीकृत कर दी। संसद ने यह हाल ही में अमेरिका द्वारा लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों के जवाब में यह धनराशि स्वीकृत की है। इसके चलते अब बड़े देशों के साथ हुआ ईरान का परमाणु समझौता खतरे में पड़ गया है। इस समझौते के अनुसार ईरान को मिसाइल परीक्षणों पर रोक लगानी थी और सीमित मात्रा में यूरेनियम संव‌र्द्धन करना था।

डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति बनने के बाद से अमेरिका और ईरान के संबंध लगातार बिगड़ते गए हैं। ट्रंप चुनाव के दौर से ही ईरान के साथ हुए समझौते को फिजूल बता रहे थे। हाल ही में रूस, ईरान और उत्तर कोरिया पर अमेरिका ने प्रतिबंध लगाए हैं। ईरानी संसद के स्पीकर अली लारीजानी ने कहा, अमेरिकी जान लें कि यह हमारी पहली प्रतिक्रिया है।

धन स्वीकृति के प्रस्ताव को संसद ने भारी बहुमत से स्वीकृति दी है। प्रस्ताव पारित होते ही सांसदों ने अमेरिका का नाश हो, का नारा लगाया। पारित प्रस्ताव के अनुसार 260 मिलियन डॉलर (1666 करोड़ रुपये) की धनराशि मिसाइल विकास और इतनी ही धनराशि रिवोल्यूशनरी गार्ड के विदेशी अभियानों के लिए स्वीकृत की गई है। इस धनराशि से इराक और सीरिया में ईरानी फौज के सैन्य अभियानों को मदद दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: उत्‍तर कोरिया को जवाब देने की तैयारी में जापान, गुआम में तैनात किया मिसाइल

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Iran will start its own missile program(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

चीनी एयरलाइंस के कर्मचारियों ने भारतीय यात्रियों से की बदसुलूकीभारतीय सेना के डटे रहने से बौखलाया चीनी, यात्रियों से की बदसलूकी
यह भी देखें