PreviousNext

घृणा अपराध के विरोध में व्हाइट हाउस के सामने भारतीयों की रैली

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 05:49 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 06:18 PM (IST)
घृणा अपराध के विरोध में व्हाइट हाउस के सामने भारतीयों की रैलीघृणा अपराध के विरोध में व्हाइट हाउस के सामने भारतीयों की रैली
भारतीय मूल के लोगों पर हो रहे घृणा अपराध के खिलाफ जागरुकता बढ़ाने के लिए आए हैं। यह ट्रंप प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन नहीं है।

वाशिंगटन, प्रेट्र : अमेरिका में बढ़ते घृणा अपराध को लेकर भारतीय मूल के लोगों में जबर्दस्त आक्रोश है। भारतीयों ने व्हाइट हाउस के सामने रैली निकालकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मामले में दखल देने की मांग की है।

रैली में शामिल वर्जीनिया निवासी वकील विंध्या अडापा ने व्हाइट हाउस के बाहर कहा, 'इस्लाम से भय के कारण हाल ही में हिंदू प्रभावित और प्रताडि़त हुए हैं।' समुदाय के खिलाफ हालिया घृणा अपराधों की पृष्ठभूमि में ग्रेटर वाशिंगटन और आसपास के रहने वाले भारतीय-अमेरिकी समूहों के दर्जनों लोगों ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन किया।

अडापा के दोस्त डॉक्टर एस शेषाद्री ने कहा, 'हालिया उदाहरण कंसास में आइटी पेशेवर की गोली मारकर की गई हत्या है। उन्हें अरब या मुस्लिम समझा गया था। मुझे लगता है कि हालिया राजनीतिक माहौल धीरे-धीरे हिंदू-अमेरिकियों समेत सभी समुदायों को निशाना बनाने वाला है।' हम भारतीय मूल के लोगों पर हो रहे घृणा अपराध के खिलाफ जागरुकता बढ़ाने के लिए आए हैं। यह ट्रंप प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन नहीं है।'

निशाने पर भारतीय

  • -10 फरवरी को इंजीनियर बख्शी रेड्डी की कैलिफोर्निया में हत्या
  • -22 फरवरी को कंसास में इंजीनियर श्रीनिवास कुचीभोटला का कत्ल
  • -23 फरवरी को न्यूयॉर्क में भारतीय लड़की नस्लीय हमले का शिकार हुई
  • -दो मार्च को साउथ कैरोलिना में हर्निश पटेल की घर के बाहर हत्या
  • -तीन मार्च को वाशिंगटन में सिख दीप राय को गोली मारी गई

यह भी पढ़ें- अमेरिकी ने फेसबुक पर किया अपनी मौत का लाइव प्रसारण

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:indian americans hold rally in front of white house to protest hate crimes(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

चीन ने थाड के विरोध को दक्षिण कोरियाई कारोबार से जोड़ाहाफिज सईद की नजरबंदी की याचिका पर सुनवाई कल तक के लिए स्थगित
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »