PreviousNext

समंदर में ताकत बढ़ाने के लिए विमानवाहक पोत बना रहा है चीन

Publish Date:Fri, 01 Jan 2016 04:13 AM (IST) | Updated Date:Fri, 01 Jan 2016 05:51 AM (IST)
समंदर में ताकत बढ़ाने के लिए विमानवाहक पोत बना रहा है चीन
विवादित दक्षिण चीन सागर में अमेरिका से बढ़ते तनाव के बीच चीन ने कहा है कि वह दूसरे विमानवाहक पोत का निर्माण कर रहा है।

बीजिंग । विवादित दक्षिण चीन सागर में अमेरिका से बढ़ते तनाव के बीच चीन ने कहा है कि वह दूसरे विमानवाहक पोत का निर्माण कर रहा है। समुद्री सैन्य क्षमताओं में इजाफा लाने के लिए वह तीसरा विमानवाहक पोत बनाने की भी योजना बना रहा है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल यांग युजुन ने बताया कि पूर्वोत्तर चीन के लियाओनिंग प्रांत के डेलियन में इस पोत का निर्माण चल रहा है। यह पोत पूरी तरह स्वदेशी तकनीक पर आधारित होगा।

कर्नल युजुन ने बताया कि 50,000 टन भार वहन करने में सक्षम यह पोत जे-15 लड़ाकू विमानों और अन्य तरह के विमानों से लैस होगा। पोत पर तैनात विमान उड़ान भरने के लिए स्की-जंप का इस्तेमाल करेंगे। पोत में एक परंपरागत ऊर्जा संयंत्र भी होगा। बहरहाल, यह पोत कब तक बनकर पूरी तरह तैयार हो जाएगा इसके बारे में युजुन ने कोई समय सीमा नहीं बताई। चीन का पहला विमानवाहक पोत लियाओनिंग रूस निर्मित है। यह उसे 25 सितंबर 2012 को मिला था।

चीन ने दूसरा विमानवाहक पोत बनाने की बात ऐसे समय में स्वीकार की है जब दक्षिण चीन सागर में तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है। अमेरिका और उसके सहयोगी देश विवादित क्षेत्र में चीनी की गतिविधियों से नाराज हैं। गौरतलब है कि चीन पूरे दक्षिण चीन सागर को अपना क्षेत्र बताता है। वियतनाम, मलेशिया, फिलीपींस, ब्रूनेई और ताइवान भी इसके कुछ हिस्सों पर दावा जताते हैं।

अमेरिका तक मार करने में सक्षम कार मिसाइल का परीक्षण

चीन ने रेल कार आधारित लंबी दूरी की बेहद घातक मिसाइल का परीक्षण किया है। यह मिसाइल अमेरिका में भी लक्ष्य पर निशाना साधने में सक्षम है। चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता कर्नल यांग युजुन ने बताया कि चीन की सीमा में वैज्ञानिक परीक्षण योजना के अनुसार किया गया। परीक्षण को लेकर और ज्यादा जानकारी साझा करने से उन्होंने इन्कार कर दिया। अमेरिकी वेबसाइट फ्री बीकॉन के अनुसार पूर्वी चीन में पांच दिसंबर को मिसाइल डीएफ-41 परीक्षण किया गया था। यह 75 सौ मील तक मार करने में सक्षम है। दुश्मन को धोखा देने के लिए इस मिसाइल सिस्टम को पैसेंजर ट्रेन की शक्ल दी जा सकती है। साथ ही इसे लोड करने के लिए सुरंग जैसी सुरक्षित जगह में ले जाया जा सकता है।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:China making a aircraft carrier to increase the strength in sea(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

दो आकाशगंगाओं के विलय की तस्वीर खींचने में सफलतालाहौर से लापता महिलाएं आइएस में शामिल
यह भी देखें