PreviousNext

एक देश ऐसा भी: क्षेत्रफल 0.004 स्क्वायर किमी, जनसंख्या 27, अर्थव्यवस्था- डोनेशन

Publish Date:Wed, 07 Jun 2017 04:15 PM (IST) | Updated Date:Thu, 08 Jun 2017 02:58 PM (IST)
एक देश ऐसा भी: क्षेत्रफल 0.004 स्क्वायर किमी, जनसंख्या 27, अर्थव्यवस्था- डोनेशनएक देश ऐसा भी: क्षेत्रफल 0.004 स्क्वायर किमी, जनसंख्या 27, अर्थव्यवस्था- डोनेशन
जी हां, यह खबर सच है। इस देश का नाम सीलैंड है और यह इंग्लैंड के सफोल समुद्र तट से लगभग 10-12 किमी की दूरी पर स्थित है।

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। दुनिया में तमाम छोटे-बड़े देश हैं। दुनिया के सात बड़े देशों में रूस, अमेरिका, चीन, ब्राजील, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और भारत का नाम आता है। जनसंख्या की दृष्टि से भी चीन और भारत की जनसंख्या तो एक अरब से ज्यादा पहुंच गई है। दुनिया में कई छोटे-छोटे देश भी हैं, जिनकी जनसंख्या 1 लाख से कम है। लेकिन यहां हम एक ऐसे देश की बात कर रहे हैं, जिसकी जनसंख्या सिर्फ 27 लोगों की है।

टेनिस कोर्ट के बराबर क्षेत्रफल

जी हां, यह खबर सच है। इस देश का नाम सीलैंड है और यह इंग्लैंड के सफोल समुद्र तट से लगभग 10-12 किमी की दूरी पर स्थित है। इस देश का पूरा क्षेत्रफल एक टेनिस कोर्ट के बराबर है और जनसंख्या सिर्फ 27 लोगों की। यही नहीं इस छोटे से देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से डोनेशन पर निर्भर है। हालांकि अब जैसे-जैसे लोगों को इस देश के बारे में जानकारी मिल रही है, लोग यहां पर्यटन के लिए भी पहुंच रहे हैं।

क्या है सीलैंड की कहानी

सीलैंड की कहानी बड़ी ही दिलचस्प है। दरअसल दूसरे विश्व युद्ध के समय इंग्लैंड ने इसे एंटी एयरक्राफ्ट डिफेंसिव गन सिस्टम के रूप में इस्तेमाल करने के लिए बनवाया था। एचएम फोर्ट रफ नाम के इस किले को साल 1967 में इंग्लैंड ने छोड़ दिया। इसी के बाद से इस खंडहर पर पैडी रॉय बैट्स नाम के व्यक्ति और उनके परिवार का कब्जा है। इस परिवार ने इस टेनिस कोर्ट के बराबर जगह को स्वतंत्र देश घोषित कर दिया। सीलैंड के अलावा इसे रफ फोर्ड के नाम से भी जाना जाता है। यह परिवार इस देश का सबकुछ है। इस परिवार ने इस छोटी सी जगह को अलग देश घोषित करने के साथ ही राष्ट्रीय चिन्ह और संविधान भी बनाया है। बैट्स परिवार के माइकल फिलहाल इस देश के प्रिंस हैं। 

फेसबुक पेज पर 1 लाख से ज्यादा लाइक

सीलैंड की एक फेसबुक पेज भी बना है। प्रिंसिपैलिटी ऑफ सीलैंड के नाम से बने फेसबुक पेज को खबर लिखे जाने तक एक लाख, 8 हजार से ज्यादा लोगों ने लाइक किया है। यही नहीं 1 लाख 5 हजार से ज्यादा लोग इस पेज को फॉलो करते हैं। हालांकि दैनिक जागरण इस बात की तस्दीक नहीं करता कि यह पेज सीलैंड का आधिकारिक पेज है या नहीं।

 

माइक्रोनेशन है सीलैंड

दुनियाभर में तमाम छोटे देश हैं, जिन्हें मान्यता मिली है। जिन देशों को विश्व समुदाय से मान्यता मिल चुकी है, वह अपना पूरी तरह से स्वतंत्र अस्तित्व रखते हैं। जबकि कई देश ऐसे भी हैं, जिन्हें अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मान्यता नहीं मिली है। ऐसे देशों को माइक्रोनेशन कहा जाता है और सीलैंड भी ऐसा ही एक माइक्रोनेशन है।


दुनिया का सबसे छोटा देश

निश्चित तौर पर सीलैंड दुनिया का सबसे छोटा देश है। लेकिन इसे अभी तक अंतरराष्ट्रीय समुदाय से मान्यता नहीं मिली है। इसलिए विश्व समुदाय से मान्यता प्राप्त सबसे छोटा देश फिलहाल वैटिकन सिटी है। वैटिकन सिटी का कुल क्षेत्रफल 0.44 वर्ग किमी है और यहां की जनसंख्या भी 800 लोगों की है।


यह भी पढ़ें: ...तो बलूचिस्‍तान के हाईजैक को लेकर चीन का है ये मास्‍टर प्‍लान

यह भी पढ़ें: शून्य पर गिरे थे भारत के 4 विकेट, आज की तारीख में दो बार शर्म से झुका था सिर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:All you need to know about micronation Sealand(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

शेर बहादुर देउबा ने ढेरों उम्‍मीदों के बीच चौथी बार ली नेपाल के प्रधानमंत्री पद की शपथखाड़ी संकट: ट्रंप ने कतर के अमीर को भी किया फोन, कहा- मध्‍यस्‍थता को US तैयार
यह भी देखें