PreviousNext

AAP में मची रार, कुमार के खिलाफ पोस्‍टर वार से केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ी

Publish Date:Sat, 17 Jun 2017 09:46 AM (IST) | Updated Date:Sat, 17 Jun 2017 08:52 PM (IST)
AAP में मची रार, कुमार के खिलाफ पोस्‍टर वार से केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ीAAP में मची रार, कुमार के खिलाफ पोस्‍टर वार से केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ी
इस पोस्‍टर में एक बार फ‍िर कुमार को भाजपा का यार बताया गया है। इतना ही नहीं उन्‍हें गद्दार और धोखेबाज तक कहा गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि यह पोस्‍टर दिलीप पांडेय के किसी समर्थक द

नई दिल्ली [ जेएनएन ]। आम आदमी पार्टी (AAP) में कलह थमने का नाम नहीं ले रही है। AAP नेता कुमार विश्वास और दिलीप पांडेय के बीच सोशल मीडिया पर शुरू हुई तकरार अब खुलकर सामने आ गई है। ताजा मामले में शनिवार काे कुमार विश्‍वास के खिलाफ दिल्‍ली में एक ऐसा पोस्‍टर जारी हुआ है, जिसमें यह रार और बढ़ सकता है। हालांकि, अभी तक दिलीप पांडेय या आप की ओर से इस पोस्‍टर पर कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है।

इस पोस्‍टर में एक बार कुमार को भाजपा का यार बताया गया है। इतना ही नहीं उन्‍हें गद्दार और धोखेबाज तक कहा गया है। ऐसा प्रतीत होता है कि यह पोस्‍टर दिलीप पांडेय के किसी समर्थक द्वारा निकाला गया है। इस पोस्‍टर के अंतिम में दिलीप को इस बात के लिए धन्‍यवाद दिया गया है कि उन्‍होंने कुमार की कलई खोली।

यह भी पढ़ें: आप की कलहगाथा का नया चैप्टर, क्या कुमार 'विश्वास' के लायक नहीं

इस पोस्‍टर से एक बात तो तय है कि आप के अंदर सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। केजरीवाल के समक्ष अब दोहरी चुनौती है। अब दिल्‍ली सरकार के साथ उन्‍हें पार्टी के अंदर चल रहे धमासान पर भी लगाम लगाने की बड़ी चुनौती होगी।

बता दें कि दिल्‍ली सरकार के पूर्व मंत्री और केजरीवाल के अति सहयोगी रहे कपिल मिश्रा ने भी कुमार विश्‍वास पर ही निशाना साधा था, आखिरकार उन्‍हें पार्टी से निलंबित कर दिया गया। अब यह देखना दिलचस्‍प होगा कि इस पूरे मामले में आप और केजरीवाल का क्‍या स्‍टैंड होता है।

बता दें कि दिल्ली में पूर्व आप के प्रभारी दिलीप पांडेय ने पिछले महीने कुमार विश्वास पर इशारों-इशारों में हमला बोला था। तब से यह जंग अनवरत जारी है। हाल में दिलीप पांडेय ने ट्विटर पर लिखा- 'भैया, आप कांग्रेसियों को खूब गाली देते हो, पर कहते हो कि राजस्थान में वसुंधरा के खिलाफ नहीं बोलेंगे ? ऐसा क्यों ?'

राजस्‍थान के प्रभारी बनाए जाने के बाद 10 जून को राजस्थान दौरे पर गए कुमार विश्वास ने आप के पदाधिकारियों के साथ बैठक की थी। इसमें कुमार विश्वास ने कहा था कि राजस्थान विधानसभा चुनाव में पार्टी अपने मूल सिद्धांतों पर लौटेगी।

इसमें कुमार ने अपने पदाधिकारियों से भाजपा नेता और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत किसी नेता पर निजी टिप्पणियां नहीं करने के निर्देश दिए थे। कुमार ने अपने नेताओं को निजी टिप्पणियों के बजाय मुद्दों पर केंद्रित प्रचार करने की नसीहत दी थी। वहीं, अब भाजपा नेताओं के प्रति कुमार के इस नरम रुख पर दिलीप पांडेय ने सवाल उठाए हैं।

दिलीप पांडे ने आप की राजनीति भाजपा और कांग्रेस के गठजोड़ को सार्वजनिक करने के लिए रही है। उनके भ्रष्टाचार को उजागर करने के लिए रही है। उन्होंने कहा कि कई जगहों पर बातों से यह साफ हुआ है कि कुमार विश्वास ने कांग्रेस के नेताओं पर निजी हमले के लिए तो हामी भरी, लेकिन भाजपा के नेताओं पर नहीं। उन्होंने कहा कि लोगों में हमारी पार्टी के लिए सम्मान है, क्योंकि हमने भाजपा और कांग्रेस दोनों के भ्रष्टाचार पर हमले किए। महारानी के ऊपर क्यों नहीं हमले। दिलीप पांडे ने कहा कि इसलिए मैंने यह सवाल किया।

दिलीप पांडेय के इस प्रकार के ट्वीट से यह साफ हो गया है कि पार्टी में कुमार विश्वास को लेकर सबकुछ ठीक नहीं है । यहां तक कि केजरीवाल का इशारा भी पार्टी नेताओं को शांत नहीं कर रहा है। या फिर पार्टी में वाकई खेमेबाजी के चलते इस प्रकार की नौबत आ गई।

कुछ दिनों से पार्टी नेता कुमार विश्वास का पार्टी अलाकमान से नाराज़ होने की ख़बरें आती रहीं। बाद में डैमेज कंट्रोल के लिए उन्हें राजस्थान का प्रभारी बना दिया गया, लेकिन अब भी ये मनमुटाव पूरी तरह ख़त्म नहीं हुआ है। 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:ncr Posters against Kumar Vishwas put outside Aam Aadmi Party Delhi office(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

तीसरे अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियां जोरों परCM केजरीवाल और LG बैजल में फिर ठनी, भाजपा के साथ पक्षपात का आरोप
यह भी देखें