PreviousNext

सरपंचों ने किया चुनाव बहिष्कार का फैसला

Publish Date:Tue, 12 Nov 2013 01:36 AM (IST) | Updated Date:Tue, 12 Nov 2013 01:38 AM (IST)

संवाद सहयोगी, बसोहली : तहसील की तीन पहाड़ी क्षेत्र की पंचायतें धार महानपुर, अदाट सिम्मनी व धार कोहर के सरपंचों ने धार महानपुर में बैठक कर लोकसभा व विधानसभा चुनावों में वोट न डालने का फैसला किया है।

बैठक में धार महानपुर के सरपंच ज्ञान चंद बटाडिया, अदाट सिम्मनी के सरपंच एडवोकेट करतार सिंह व धार कोहर के सरपंच मसू राम ने सर्वसम्मति से यह फैसला किया कि इस बार चुनावों का बायकाट ही उनके क्षेत्र की समस्याओं को हल करवाएगा। अगर इससे भी बात न बनी तो वह सांसद और विधायक का सामाजिक बायकाट करेंगे।

उन्होंने कहा कि सांसद व विधायक ने उनकी पंचायतों से धोखा किया है। तीन पंचायतों के मध्य धार महानपुर में एकमात्र आयुर्वेदिक डिस्पेंसरी है मगर उसमें पिछले आठ वर्षो से एक भी चिकित्सक को तैनात नहीं किया गया। छोटी-मोटी बीमारी के लिए भी लोगों को बसोहली व महानपुर सफर करना पड़ता है, जिसमें समय तो लगता है और पैसों की बर्बादी भी होती है। धार महानपुर गांव के लिए 29 किलोमीटर सड़क बनाने का काम 1962 से चल रहा है, लेकिन आज तक इस सड़क को यातायात के काबिल नहीं बनाया जा सका। बारिश हुई नहीं कि सड़क बंद हो जाती है।

शिक्षा के क्षेत्रमें इस पहाड़ी क्षेत्र की हालत खराब है। मिडिल स्कूल धार कोहर, मिडिल स्कूल सिम्मनी, प्राइमरी स्कूल अदाट व मिडिल स्कूल केहर के अलावा आसपास के दर्जनों स्कूलों में स्टाफ की कमी है। कई बार शिक्षा विभाग के अधिकारियों से बात की गई, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

इस मौके पर पंचायत कोर के चेयरमैन रतन चंद, चेयरमैन करनैल सिंह व चेयरमैन अदाट परसराम सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    दिनदहाड़े दुकान से दस मोबाइल उड़ाएमहिलाओं ने किया श्रद्धा से आमली पूजन
    यह भी देखें
    यह भी देखें
    Close