PreviousNext

अंडर-17 फुटबॉल टीम में है जीत की भूख : कॉन्स्टेनटाइन

Publish Date:Mon, 27 Feb 2017 08:09 PM (IST) | Updated Date:Mon, 27 Feb 2017 08:18 PM (IST)
अंडर-17 फुटबॉल टीम में है जीत की भूख : कॉन्स्टेनटाइनअंडर-17 फुटबॉल टीम में है जीत की भूख : कॉन्स्टेनटाइन
स्टीफन कॉन्स्टेनटाइन ने कहा है कि वह युवा खिलाड़ियों की खेल के प्रति प्रतिबद्धता से संतुष्ट हैं।
नई दिल्ली। भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच और इसी वर्ष होने वाले अंडर-17 विश्व कप के लिए जूनियर टीम को प्रशिक्षण देने वाले स्टीफन कॉन्स्टेनटाइन ने कहा है कि वह युवा खिलाड़ियों की खेल के प्रति प्रतिबद्धता से संतुष्ट हैं, जिनमें बेहतर तालमेल तथा जीत के प्रति भूख दिखाई देती है।
अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) के आग्रह पर गोवा में सम्पन्न प्रशिक्षण शिविर में कॉन्स्टेनटाइन ने अंडर-17 टीम के खिलाड़ियों को खेल की बारीकियां सिखाई। कॉन्स्टेनटाइन के अलावा एआईएफएफ के तकनीकी निदेशक सैवियो मेदिरा भी शिविर में मौजूद रहे। टीम के साथ अपने अनुभव को साझा करते हुए कॉन्स्टेनटाइन ने कहा-यह बेहद सकारात्मक रहा। खिलाड़ियों में बेहतरीन तालमेल था और सबसे अहम था कि जूनियर खिलाड़ियों ने अभ्यास सत्र का जमकर लुत्फ उठाया। सपोर्ट स्टाफ भी बेहद सकारात्मक था।
शिविर में किस बात पर अधिक जोर दिया गया, यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा- शिविर में खिलाड़ियों को अपनी गलतियों को दिल पर न लेने के बजाय उनसे सबक लेते हुए सुधार करने को कहा गया। प्रशिक्षण सत्र में तैयारी पर गंभीर चर्चा हुई तथा खिलाड़ियों को खेल के प्रति पूरी प्रतिबद्धता अपनाने को कहा गया। जीत और हार दोनों परिस्थितियों में समान रूप से रहने को कहा गया। इसके अलावा मानसिक तथा शारीरिक मजबूती पर जोर दिया गया। कॉन्स्टेनटाइन ने कहा- मैंने खिलाड़ियों से दबावमुक्त रहकर अपना नैसर्गिक खेल खेलने को कहा और उन्हें खेल का लुत्फ उठाने की सलाह भी दी। ऐसा करने से विपक्षी टीम पर दबाव बढ़ता है जबकि दबाव में खेलने से आप गलतियां करते जाते हैं और अंत में यह हार का कारण बनता है। 
मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Under 17 team wants to win web(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

भारतीय मुक्केबाजों ने जीते तीन पदकभारतीय शटलर श्रीकांत की निगाह जर्मन ओपन पर
यह भी देखें