PreviousNext

बहुत देखी कार रेसिंग, अब लीजिएगा इनकी रफ्तार का मजा..

Publish Date:Thu, 23 Jan 2014 11:04 AM (IST) | Updated Date:Thu, 23 Jan 2014 11:07 AM (IST)
बहुत देखी कार रेसिंग, अब लीजिएगा इनकी रफ्तार का मजा..
आपने फॉर्मूला वन रेसिंग के जरिए कार रेसिंग का खूब लुत्फ उठाया, इस साल भारत में एफ1 का आयोजन तो नहीं होने वाला लेकिन फिर भी आप रफ्तार के अलग रोमांच का मजा ले सकते हैं। इस बार भारतीय

जागरण न्यूज नेटवर्क, नई दिल्ली। आपने फॉर्मूला वन रेसिंग के जरिए कार रेसिंग का खूब लुत्फ उठाया, इस साल भारत में एफ1 का आयोजन तो नहीं होने वाला लेकिन फिर भी आप रफ्तार के अलग रोमांच का मजा ले सकते हैं। इस बार भारतीय रेसिंग ट्रैक पर गाड़ियां नहीं, ट्रक दौड़ेंगे। जी हां, भारतीय मोटर रेसिंग इतिहास में एक नया अध्याय जुड़ने जा रहा है। मार्च में भारत में पहली बार ट्रक रेसिंग का आयोजन किया जाएगा।

टाटा मोटर्स ने फॉर्मूला वन में भाग लेने वाले पहले भारतीय नरेन कार्तिकेयन की मौजूदगी में बुधवार को टी1 प्राइमा ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप की घोषणा की, जो 23 मार्च को ग्रेटर नोएडा के बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट पर आयोजित की जाएगी। भारत में होने वाली इस पहली ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप को विश्व मोटर स्पो‌र्ट्स की शीर्ष संस्था एफआइए और भारतीय मोटरस्पो‌र्ट्स क्लब महासंघ (एफएमएससीआइ) से मान्यता हासिल है और इन दोनों के कैलेंडर में इसे शामिल किया गया है। इस चैंपियनशिप में रेसिंग को ध्यान में रखकर विशेष रूप से तैयार किए गए 12 टाटा प्राइम ट्रकों को शामिल किया गया है। 25 लैप की इस प्रतियोगिता में कई अंतरराष्ट्रीय ड्राइवर भाग लेंगे, जिन्हें छह टीमों में बांटा जाएगा। इसे ब्रिटिश ट्रक रेसिंग एसोसिएशन के नियमों के तहत आयोजित किया जाएगा।

टाटा मोटर्स के प्रबंध निदेशक कार्ल लिम ने इसे भारतीय मोटरस्पोर्ट्स के लिए ऐतिहासिक दिन करार दिया। उन्होंने कहा, 'इससे पहले भारत में कभी ऐसा नहीं हुआ। फॉर्मूला वन दुनिया में चार पहियों की रेसिंग में शीर्ष पर है और हम टी-1 प्राइमा ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप को भारत में ट्रक रेसिंग की सबसे बड़ी प्रतियोगिता बनाना चाहते हैं।' विश्व में ट्रक रेसिंग दुनिया के लिए नई नहीं है। सबसे पहली बार 1979 में ट्रक रेसिंग चैंपियनशिप का आयोजन किया गया था।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

उधर, खबर है कि भारत के पूर्व फॉर्मूला वन ड्राइवर नरेन कार्तिकेयन की 2014 सत्र के लिए जापान की सुपर फॉर्मूला सीरीज से जुड़ने की उम्मीद है। इसको लेकर कार्तिकेयन की कई टीमों से बात चल रही है। पिछले साल ऑटो जीपी सीरीज में जेले रेसिंग और सुपर नोवा इंटरनेशनल टीम के लिए कार दौड़ाने वाले कार्तिकेयन ने कहा कि अभी कुछ भी तय नहीं हुआ है, लेकिन उन्हें उम्मीद है कि जल्दी वह किसी टीम से जुड़ेंगे।

37 वर्षीय कार्तिकेयन ने पिछले सप्ताह जापान के फुजी में सीरीज के लिए कार टेस्ट दिया था। एक कार्यक्रम से इतर भारतीय रेसिंग ड्राइवर ने कहा कि मेरी कुछ टीमों से बात चल रही है। कोई भी रेसिंग प्रतियोगिता फॉर्मूला वन की जगह नहीं ले सकती, लेकिन मैं सुपर सीरीज जैसी प्रतियोगिता का हिस्सा बनकर खुश हूं। 2007 से 2009 तक फॉर्मूला वन टीम विलियम्स के लिए कार चला चुके जापानी ड्राइवर काजुकी नाकाजिमा भी सुपर फॉर्मूला सीरीज का हिस्सा हैं। कार्तिकेयन से जब पूछा गया कि क्या वह नई सीरीज फॉर्मूला ई का हिस्सा बनेंगे तो उन्होंने इन्कार कर दिया। दरअसल, इस सीरीज में भारत के करुण चंडोक महिंद्रा रेसिंग टीम का हिस्सा बन सकते हैं।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Now Indian motor racing fans to enjoy Truck Racing(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

सैयद मोदी बैडमिंटन टूर्नामेंट: साइना, सिंधू और कश्यप प्री-क्वॉर्टर्स में..और पेश है भारतीय फॉर्मूला वन टीम की नई कार
यह भी देखें