PreviousNext

इस खबर को पढ़कर भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी है

Publish Date:Fri, 12 May 2017 04:56 PM (IST) | Updated Date:Sun, 14 May 2017 08:50 AM (IST)
इस खबर को पढ़कर भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी हैइस खबर को पढ़कर भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी है
भारत और पाकिस्‍तान के बीच कुछ ऐसा है जिसकी वजह से भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी हो जाता है। क्‍या आप इसके बारे में जानते हैं।

नई दिल्‍ली (स्‍पेशल डेस्‍क)। भारत भले ही पाकिस्‍तान को लेकर कुछ भी दावा करे लेकिन एक चीज ऐसी है कि जिससे भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी हो जाता है। आपको शायद यह बात सुनकर अच्‍छा न लगे लेकिन यह हकीकत है। इसकी वजह है कि पाकिस्‍तान की परमाणु ताकत, जाे कि भारत से अधिक है। इसके सही मायने हम आपको बताते हैं। दरअसल पाकिस्‍तान के पास करीब 120 से 130 तक परमाणु हथियार हैं। वहीं भारत की यदि बात की जाए तो यह आंकड़ा सौ से नीचे ही है।

गौरतलब है कि भारत ने 1974 में पहली बार और 1998 में दूसरी बार परमाणु परीक्षण किया था। चीन और पाकिस्तान के साथ सीमा विवाद के बावजूद भारत ने वादा किया है कि वो पहले परमाणु हमला नहीं करेगा। साथ ही भारत का कहना है कि वह परमाणु हथियार विहीन देशों के खिलाफ भी इनका प्रयोग नहीं करेगा। यही एक ऐसी खबर है जिससे भारत का पाकिस्‍तान से डरना जरूरी हो जाता है।

परमाणु हथियारों के बारे में शायद ही कोई ऐसा हो जो न जानता हो। लेकिन आपको इससे जुड़ी और कितनी बातें पता हैं। चलिए हम आपको परमाणु हथियारों से जुड़ी पूरी जानकारी देते हैं। विभिन्‍न स्रोतों से मिली जानकारी के मुताबिक दुनियाभर में करीब करीब 17हजार परमाणु हथियार मौजूद हैं। इसमें रूस सबसे आगे है। स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट के मुताबिक 1949 में पहली बार परमाणु परीक्षण करने वाले रूस के पास 8,000 परमाणु हथियार हैं।

यह भी पढ़ें: चीन को सताने लगा है डर, भारत को दरकिनार करना नहीं होगा सही

रूस के बाद इस लिस्‍ट में अमेरिका का नंबर आता है जिसने 1945 में पहली बार परमाणु परीक्षण के कुछ ही समय बाद जापान के हिरोशिमा और नागासाकी शहरों पर न्‍यूक्लियर बम गिराकर दुनिया को इसके दुष्‍परिणाम दिखाए थे। अमेरिका के पास इस तरह के करीब 7,300 परमाणु बम हैं।

यूरोप की यदि बात करें तो इसमें फ्रांस सबसे आगे है। फ्रांस के पास करीब 300 परमाणु बम हैं। वर्ष 1960 में इसकी तकनीक मिलने के बाद से ही फ्रांस अपने परमाणु बम कार्यक्रम को लगातार आगे बढ़ा रहा है। एशिया में सबसे अधिक परमाणु बम चीन के पास हैं। अपुष्‍ट जानकारी के मुताबिक चीन के पास करीब 250 परमाणु हथियार हैं। चीन ने 1964 में इस क्षेत्र में अपना कदम रखते हुए पहला परमाणु परीक्षण किया था। वहीं ब्रिटेन ने 1952 में पहली बार परमाणु परीक्षण किया था। जानकारी के मुताबिक उसके पास भी करीब 225 परमाणु हथियार हैं। 1952 में ही ब्रिटेन संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्‍य भी बना था।

1948 से 1973 तक तीन बार अरब देशों से युद्ध लड़ चुके इजरायल के पास करीब 80 परमाणु हथियार मौजूद हैं। वहीं पाकिस्‍तान के जरिए उत्‍तर कोरिया पहुचंने वाली इस तकनीक के दम पर उसने भी आठ से दस के बीच परमाणु हथियार बना लिए हैं। सभी प्रतिबंधों को दरकिनार कर 2006 में उत्तर कोरिया ने पहली बार परमाणु परीक्षण किया था।

यह भी पढ़ें: 'मां, मुझे माफ कर देना, अब मैं ज़िंदगी से और नहीं लड़ सकती हूं'

यह भी पढ़ें: नक्‍सलियों की अब खैर नहीं, कुछ ऐसी होती है हाईटैक कोबरा कमांडो फोर्स


 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:you know why India fear from pakistan there is a facts read it(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

चीन को सताने लगा है डर, भारत को दरकिनार करना नहीं होगा सही'मां, मुझे माफ कर देना, अब मैं ज़िंदगी से और नहीं लड़ सकती हूं'
यह भी देखें