PreviousNext

श्रीलंका और पाकिस्तान के लेखकों की पहली पसंद बने रहे भारतीय प्रकाशन हाउस

Publish Date:Tue, 20 Jun 2017 02:42 PM (IST) | Updated Date:Tue, 20 Jun 2017 02:46 PM (IST)
श्रीलंका और पाकिस्तान के लेखकों की पहली पसंद बने रहे भारतीय प्रकाशन हाउसश्रीलंका और पाकिस्तान के लेखकों की पहली पसंद बने रहे भारतीय प्रकाशन हाउस
पाकिस्तान और श्रीलंका की एक बड़ी संख्या में पांडुलिपियां भारत में तेजी से बढ़ रही हैं।

नई दिल्ली,आईएएनएस। भारतीय प्रकाशन गृह तेजी से पड़ोसी देशों के लेखकों की पसंदीदा विकल्प बनते जा रहे हैं, पाकिस्तान और श्रीलंका के लेखकों की एक बड़ी संख्या में पांडुलिपियां भारत में तेजी से बढ़ रही हैं।

फिर भी, यह कई विरोधाभासों की एक कहानी है कई पांडुलिपियों को उनके खुद के देशों में मूल रूप से खारिज कर दिया गया था, जबकि उन पांडुलिपियों ने भारतीय प्रकाशकों का ध्यान आकर्षित किया।

इन प्रकाशन घरों के संपादकों का कहना है कि सामग्री के साथ प्रयोग करने के लिए और अधिक खुला होना, पाकिस्तान और श्रीलंका जैसे देशों के लेखकों की यात्रा को बहुत आसान बना देता है।

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश ने दिए नौ प्रधानमंत्री, अब मिलेगा पहला राष्ट्रपति

यह भी पढ़ें: आजादी की उद्घोषणा की तर्ज पर आधी रात को संसद से लॉन्च होगा जीएसटी

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Writers from Pakistan Sri Lanka find publishing haven in India(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

जब ट्रैफिक पुलिस के इस जवान ने रोक दिया राष्ट्रपति का काफिला, जानिए फिर क्या हुअाएटीएम को हैक कर 20 लाख रुपये की लूट, 4 माह बाद पुलिस को मिली सूचना
यह भी देखें