PreviousNext

बच्चों की मौत पर यूपी सरकार का दावा गलत : गुलाम नबी आजाद

Publish Date:Sun, 13 Aug 2017 02:56 AM (IST) | Updated Date:Sun, 13 Aug 2017 02:56 AM (IST)
बच्चों की मौत पर यूपी सरकार का दावा गलत : गुलाम नबी आजादबच्चों की मौत पर यूपी सरकार का दावा गलत : गुलाम नबी आजाद
गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मासूम बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं होने के प्रदेश सरकार के दावे को कांग्रेस ने सरासर गलत करार दिया है।

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मासूम बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं होने के प्रदेश सरकार के दावे को कांग्रेस ने सरासर गलत करार दिया है। पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री गुलाम नबी आजाद ने शनिवार को कहा कि ऑक्सीजन सप्लाई का शासन ने भुगतान नहीं किया। इसी वजह से यह नौबत आई। पार्टी ने मासूमों की मौत को सबसे बड़ा अपराध करार देते हुए गलतबयानी कर रहे प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है।

 ऑक्सीजन की कमी से बच्चों की मौत के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार सुबह आजाद की अगुआई में पार्टी नेताओं का एक दल गोरखपुर भेजा था। मौका मुआयना कर लौटे आजाद ने दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिद्धार्थनाथ के दावों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं होने की वजह से हुई है।

-गोरखपुर हादसे के बाद कांग्रेस के प्रतिनिधियों ने किया अस्पताल का दौरा
-सुप्रीम कोर्ट के जज या सर्वदलीय संसदीय दल से जांच कराने की मांग 

आजाद ने गोरखपुर से प्रकाशित हिंदी अखबारों की पिछले 15 दिनों की खबरों का उल्लेख करते हुए कहा कि ऑक्सीजन की कमी को उठाते हुए अखबारों ने बड़े हादसे की चेतावनी दी थी। मगर प्रशासन और राज्य सरकार ने इसकी अनदेखी की, जिसकी कीमत मासूमों को अपनी जिंदगी गंवा कर चुकानी पड़ी है।
आजाद ने कहा कि मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल या कुछ अधिकारी को निलंबित करने से बात नहीं बनेगी। यह राज्य सरकार की घोर लापरवाही का नतीजा है। खास बात यह कि खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के घर में यह वाकया हुआ और वे दो दिन पहले मेडिकल कॉलेज आए भी थे। ऐसे में जिला स्तर की जांच कराने का आदेश मासूमों की दर्दनाक मौत के गुनाह पर लीपापोती होगी।
आजाद ने कहा कि भविष्य में ऐसी घटनाएं न हो और दोषियों पर कार्रवाई हो इसके लिए सुप्रीम कोर्ट के सीटिंग जज से जांच कराई जानी चाहिए, ताकि 15 दिनों में सच सामने आ सके। अगर न्यायिक जांच नहीं कराई जाती, तो फिर सभी राजनीतिक दलों के संयुक्त संसदीय दल से मासूमों की मौत की जांच हो। आजाद के साथ राज बब्बर, डॉ. संजय सिंह, प्रमोद तिवारी और आरपीएन सिंह आदि भी गोरखपुर गए थे।


हादसे के लिए सरकार जिम्मेदार : अखिलेश

राज्य ब्यूरो, लखनऊ। गोरखपुर हादसे को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने राज्य सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि हादसे के लिए सरकार जिम्मेदार है। वह सच छिपा रही है, जबकि उसके पास पूरी जानकारी है। उन्होंने मांग की कि सरकार प्रत्येक मृतक के परिजन को बीस-बीस लाख रुपये मुआवजा दे। सपा अध्यक्ष ने हादसे की जांच के लिए छह सदस्यीय कमेटी गोरखपुर रवाना की है। शनिवार को पत्रकारों से बात करते हुए अखिलेश ने कहा कि इस घटना में सरकार की नाकामी सामने आई है। सरकार अपनी जिम्मेदारी से बचने के लिए विपक्षी दलों से कह रही कि वे राजनीति न करें।

यह भी पढें: कांग्रेस ने दी गोरखपुर के मृतकों को श्रद्धांजलि

यह भी पढें: गोरखपुर हादसे से आहत पीएम मोदी

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:UP government claim on children death is wrong says Ghulam Nabi Azad(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

भीषण मुठभेड़ में दो आतंकी ढेर, दो जवान भी शहीद, सीमांत क्षेत्रों में दहशतविनिवेश पर अगले सप्ताह हो सकता है बड़ा फैसला, नीति आयोग ने तैयार की रिपोर्ट
यह भी देखें