PreviousNext

कांग्रेस के समय का है टेलीकॉम घोटाला

Publish Date:Fri, 08 Jul 2016 10:29 PM (IST) | Updated Date:Fri, 08 Jul 2016 10:31 PM (IST)
कांग्रेस के समय का है टेलीकॉम घोटाला
टेलीकॉम कंपनियों की 46,000 करोड़ रुपये की बकाया वसूली के मामले में सरकार ने कांग्रेस पर जबर्दस्त पलटवार किया है।

नई दिल्ली। टेलीकॉम कंपनियों की 46,000 करोड़ रुपये की बकाया वसूली के मामले में सरकार ने कांग्रेस पर जबर्दस्त पलटवार किया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इसे कांग्र्रेस का "सेल्फ गोल" बताया है।

पूर्व संचार मंत्री और मौजूदा कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्र्रेस के आरोप को बेबुनियाद, प्रायोजित और सच्चाई से परे करार दिया। उन्होंने कहा कि कांग्र्रेस शासन में संचार विभाग भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया था।

जेटली ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि कांग्र्रेस छह टेलीकॉम कंपनियों की तरफ से 46,000 करोड़ रुपये की अंडर रिपोर्टिंग के घोटाले का आरोप राजग सरकार पर लगा रही है। वास्तविकता यह है कि यह घोटाला खुद संप्रग सरकार के वक्त का है।

जेटली ने लिखा कि लगता है कांग्र्रेस की रणनीति बिना दिमाग का इस्तेमाल किए आडंबरपूर्ण शब्दावली का इस्तेमाल कर बनाई जाती है। नियमों के मुताबिक मोबाइल टेलीकॉम कंपनियां सरकार को सालाना अर्जित राजस्व के आधार पर लाइसेंस फीस और स्पेक्ट्रम शेयरिंग चार्ज का भुगतान करती हैं।

फरवरी 2016 में संसद में पेश कैग की रिपोर्ट के मुताबिक छह कंपनियों ने 2006-07 से 2009-10 के दौरान 46,000 करोड़ रुपये की अंडर रिपोर्टिंग की। इनमें एयरटेल, वोडाफोन और रिलायंस कम्यूनिकेशंस भी शामिल हैं। इन कंपनियों के ऐसा करने से सरकार की लाइसेंस फीस और स्पेक्ट्रम यूजर्स चार्जेज में 5000 करोड़ रुपये की कमी आ गई।

जेटली ने कहा कि टेलीकॉम विभाग को यह रिपोर्ट फरवरी 2016 में मिली। इससे संबंधित दस्तावेज विभाग को 2016 में प्राप्त हुए। अब आगे की कार्रवाई के लिए इन दस्तावेजों का अध्ययन किया जा रहा है।

जेटली ने कांग्र्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि यह राजग सरकार का घोटाला कैसे हो सकता है। जिस अवधि में टेलीकॉम कंपनियों ने अंडर रिपोर्टिंग की उस वक्त देश में संप्रग की ही सरकार थी।
प्रसाद ने कांग्रेस को घेरा
पूर्व संचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस पूरे मामले में कांग्र्रेस को कठघरे में खड़ा करते हुए कहा कि संप्रग सरकार में नियम-कायदों को ताक पर रखकर संचार भवन में घोटाले किए गए। उन्होंने सवाल किया कि जिस 2जी घोटाले को संप्रग सरकार के संचार मंत्री कपिल सिब्बल ने जीरो लॉस बताया था, पहले कांग्र्रेस को उसका जवाब देना चाहिए।
एक-एक पाई वसूलेगी सरकार
मौजूदा संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि सरकार टेलीकॉम कंपनियों की अंडर रिपोर्टिंग से हुए नुकसान की एक-एक पाई वसूलेगी। टेलीकॉम घोटाला संप्रग सरकार का किया हुआ पाप है, जिसे मौजूदा सरकार को साफ करना है। यह राजग सरकार ही है जिसने संचार मंत्रालय के कामकाज को पारदर्शी बनाया है।

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल विस्तार में भी शिवसेना दिखी लाचार

शाही इमाम ने आतंकियो को बताया 'काफिर', कहा- पीस टीवी पर लगे बैन

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Telecom scam: Congress Rs 45000-cr CAG bomb is actually a GST spoiler(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

पैंट-शर्ट पहन मॉल में घूमने वाले महामंडलेश्वर को पद से हटायाडायबिटीज इलाज में लोकप्रिय हो रही मोबाइल पर मदद
यह भी देखें

जनमत

पूर्ण पोल देखें »