PreviousNext

विधान परिषद की नौ सीटों पर हुए उपचुनाव में YSR कांग्रेस को करारा झटका

Publish Date:Mon, 20 Mar 2017 01:18 PM (IST) | Updated Date:Mon, 20 Mar 2017 02:32 PM (IST)
विधान परिषद की नौ सीटों पर हुए उपचुनाव में YSR कांग्रेस को करारा झटकाविधान परिषद की नौ सीटों पर हुए उपचुनाव में YSR कांग्रेस को करारा झटका
आंध्र प्रदेश के नौ विधान परिषदों की सीटों पर वाईएसआर कांग्रेस को करारा झटका लगा है। यहां की सभी सीटों पर टीडीपी ने कब्‍जा जमा लिया है।

अमरावती (पीटीआई)। आंध्र प्रदेश के नौ विधान परिषदों की सीटों के लिए हुए उपचुनाव में तेलगुदेशम पार्टी ने बाजी मारते हुए वाईएसआर कांग्रेस को करारा झटका दिया है। इन सीटों के लिए 17 मार्च को मतदान हुआ था। आज हुई मतों की गिनती के बाद टीडीपी में इन सीटों पर जीत हासिल की है। टीडीपी ने यहां की सभी नौ सीटों पर कब्‍जा जमाया है। इनमें से छह पर टीडीपी के उम्‍मीद्वार निर्विरोध चुन लिए गए। इनमें श्रीकाकुलम, पूर्वी गोदावरी, पश्चिम गोदावरी की दो सीट, अनंतपुरमू और चित्‍तूर सीट शामिल है।

इस चुनाव के तहत पंचायत समेत शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के सदस्‍यों को चुना गया था। वाईएसआर कांग्रेस के लिए यह बहुत बड़ा झटका है। कडप्‍पा, कुर्नूल और एसपीएस नेल्‍लौर से उसको हाथ धोना पड़ा है। कडप्‍पा कभी इस पार्टी का गढ़ हुआ करता था। यहां पर वाईएस विकेनानंद रेड्डी को टीडीपी के रवि ने 34 वोटों से हराया है। विवेकानंद वाईएस जगमोहन रेड्डी के अंकल हैं और वह पहले सांसद, विधायक भी रह चुके हैं। वाईएसआर कांग्रेस ने इस हार को लेकर टीडीपी पर आरोप लगाया है कि उन्‍होंने वोटों को खरीदने का काम किया है और इसके लिए करीब दो सौ करोड़ रुपये खर्च किए हैं।

यूपी की जीत को चीनी मीडिया ने बताया पीएम मोदी की बड़ी सफलता, कहा पार्टी में बढ़ेगा कद

यूपी की कमान योगी के हाथों में सौंपने से पाक मीडिया में मची हलचल

यूपी में मुस्लिमों के दिलों पर राज करना योगी के लिए होगी सबसे बड़ी चुनौती

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:TDP bags all 9 council seats after win in Kadapa Kurnool and SPS Nellore(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कंसास गोलीबारी: इयान ग्रिलोट को इंडियन हाउस ह्यूस्टन में किया जायेगा सम्मानितविश्वास मत हासिल करने के बाद बोले बीरेन सिंह, ये मणिपुर की जनता की जीत है
यह भी देखें