PreviousNext

एमएसजी के प्रसारण पर लटकी तलवार

Publish Date:Wed, 14 Jan 2015 07:11 PM (IST) | Updated Date:Wed, 14 Jan 2015 07:53 PM (IST)
एमएसजी के प्रसारण पर लटकी तलवार
डेरा मुखी गुरमीत राम रहीम सिंह की फिल्म मैसेंजर ऑफ गॉड (एमएसजी) का प्रसारण लटकने की संभावनाएं बन गई हैं। फिल्म के निर्माण से जुड़े डेरा प्रबंधक बुधवार को भी दिन भर दिल्ली में रहकर

चंडीगढ़ [राज्य ब्यूरो] । डेरा मुखी गुरमीत राम रहीम सिंह की फिल्म मैसेंजर ऑफ गॉड (एमएसजी) का प्रसारण लटकने की संभावनाएं बन गई हैं। फिल्म के निर्माण से जुड़े डेरा प्रबंधक बुधवार को भी दिन भर दिल्ली में रहकर फिल्म के निर्धारित तारीख पर प्रसारण के प्रयासों में जुटे रहे। सेंसर बोर्ड ने फिल्म सर्टिफिकेशन एपिलेट ट्रिब्यूनल [एफसीएटी] को बुधवार को यह मामला सौंपा। यदि बृहस्पतिवार तक फैसला नहीं होता को फिल्म का प्रसारण लटक सकता है।

डेरा प्रबंधकों की ओर से दिल्ली में किए जा रहे प्रयासों के चलते उन्हें फैसला अपने पक्ष में आने की उम्मीद है। डेरा प्रबंधकों को मंगलवार को ही फिल्म पर सेंसर बोर्ड की आपत्ति संबंधी आदेश की प्रति मिली है। इस पर फिल्म निर्माण से जुड़े डेरा प्रबंधक कानूनी राय भी ले रहे हैं। फिल्म के प्रसारण को लेकर यदि बृहस्पतिवार दोपहर तक कोई फैसला नहीं आता तो इसी दिन डेरा मुखी स्वयं मीडिया से बातचीत कर अपना रुख साफ कर सकते हैं।

डेरा प्रमुख की फिल्म एमएसजी 16 जनवरी को रिलीज होनी है। इनेलो की छात्र विंग इनसो द्वारा इस फिल्म के प्रसारण का प्रबल विरोध किया जा रहा है। इनसो के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिग्विजय सिंह चौटाला फिल्म के विरोध के लिए गुड़गांव में डेरा जमाए हुए हैं। बुधवार को उन्होंने दिल्ली पहुंचकर फिल्म का विरोध किया। दूसरी तरफ डेरा अनुयायिओं की निगाह एफसीएटी के आने वाले फैसले पर टिकी हुई है।

डेरा प्रबंधकों को उम्मीद है कि जिस तरह फिल्म को लेकर बॉलीवुड इंडस्ट्री के कुछ नामचीन लोगों ने सकारात्मक रुख जताया है, उसे देखते हुए फिल्म के रिलीज होने में अड़चने खत्म हो जाएंगी और फिल्म तयशुदा समय पर रिलीज हो जाएगी। डेरा प्रवक्ता डा. आदित्य इनसां भी कुछ इसी तरह का दावा कर रहे हैं। उनका कहना है कि हमें मंगलवार को सेंसर बोर्ड की आपत्ति संबंधी कापी मिली। बुधवार को इसे फिल्म सर्टिफिकेशन एपिलेट ट्रिब्यूनल (एफसीएटी) के पास विचार के लिए भेजा गया। अब देखते हैं कि कब क्या होता है। हमें उम्मीद है कि फिल्म तय समय पर रिलीज होगी।

दूसरी तरफ सेंसर बोर्ड की तरफ से लगाई गई रोक से फिल्म के खिलाफ खड़ी जमात ने राहत महसूस की है। विधानसभा चुनाव में डेरे ने भले ही भाजपा की मदद की है, लेकिन किसी भी तरह के बखेड़े से बचने की कोशिशों में जुटी मनोहर सरकार भी चाहती है कि सब कुछ ठीक बना रहे। फिल्म यदि 16 जनवरी को ही रिलीज होती है तो राज्य सरकार सुरक्षा के लिहाज से मुस्तैद है। पुलिस महानिदेशक यशपाल सिंघल पहले ही कानून व्यवस्था बनाए रखने का दावा कर चुके हैं।

पढ़ें: फिल्म ‘एमएसजी’ पर बढ़ा विवाद, धरने पर बैठे सिख श्रद्धालु

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:suspician over release of msg(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

कांग्रेस के कम्युनिकेशन विभाग का पुनर्गठनतृणमूल सांसद प्रसून बनर्जी ने सिपाही को मारा तमाचा
यह भी देखें