PreviousNext

बुलंद हुई आवाज, स्वच्छता ही धर्म

Publish Date:Tue, 25 Aug 2015 02:53 AM (IST) | Updated Date:Tue, 25 Aug 2015 09:16 AM (IST)
बुलंद हुई आवाज, स्वच्छता ही धर्म
देश के 60 करोड़ लोगों के खुले में शौच करने की कड़वी सच्चाई को बयां करते हुए सोमवार को पटना से यह आवाज पुरजोर ढंग से बुलंद हुई- 'स्वच्छता ही धर्म है।मौका था जागरण पहल द्वारा स्वच्छ

पटना। देश के 60 करोड़ लोगों के खुले में शौच करने की कड़वी सच्चाई को बयां करते हुए सोमवार को पटना से यह आवाज पुरजोर ढंग से बुलंद हुई- 'स्वच्छता ही धर्म है।

मौका था जागरण पहल द्वारा स्वच्छता पर 'चेंजिंग बिहेवियर-क्रिएट सेनिटेशन-चेंज लीडर्स के विषय के नाम से आयोजित सेमिनार का जिसमें मशहूर अभिनेत्री विद्या बालन, अभिनेता एवं सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश, राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, स्वामी चिदानंद सरस्वती सहित अनेक दिग्ग्जों से लेकर दर्जनों मुखिया ने भाग लिया।

सिंगापुर से आए वर्ल्ड टॉयलेट आर्गेनाइजेशन के संस्थापक जैक सिम और हरियाणा के एक मुखिया राधेश्याम गोमला ने अपनी बातों से लोगों के दिलों को छू लिया। जागरण पहल ने जहां सूबे के 200 गांवों में स्वच्छता अभियान चलाने की घोषणा की, वहीं सभी ने खुले में शौच से मुक्ति दिलाने का संकल्प लिया।


डेटॉल की निर्माता अंतरराष्ट्रीय कंपनी 'रेकिट बेनकिसर (आरबी) और दैनिक जागरण की सामाजिक सरोकार से जुड़ी संस्था 'पहल द्वारा आयोजित यह कार्यक्रम अपने आप में इस कारण भी विशेष था कि स्वच्छता अभियान की एंबेसडर बनीं विद्या बालन पहली बार बिहार आई थीं।

इस अभियान के तहत बिहार और उत्तर प्रदेश के पांच सौ जन-प्रतिनिधियों का चयन किए जाएगा जो 'परिवर्तन दूत कहलाएंगे। जागरण पहल की ओर से इन्हें टैब दिए जाएंगे जिसमें स्वच्छता से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी मौजूद रहेगी।


ऋषिकेश से आए स्वामी चिदानंद सरस्वती ने यह कह कार्यक्रम में मौजूद लोगों के मस्तिष्क का झकझोर दिया-स्वच्छता ही हमारा धर्म है। मंदिर जाने से पहले हम शौचालय जाते हैं। यह व्यावहारिक बात है, तभी हमारा मन मंदिर में भी लगता है। जब हमारी सोच बदलेगी तभी देश बदलेगा। कोई पूछ सकता है कि इतने बड़े देश में यह बदलाव कैसे आ सकता है। मेरे पास इसका स्पष्ट जवाब है। लोगों को सोशल (सामाजिक), वोकल (स्पष्टवादी) और लोकल (स्थानीय) बनना होगा। स्वामी ने एलान किया कि ऋषिकेश में देश का पहला टॉयलेट विश्वविद्यालय खोला जाएगा।


दैनिक जागरण समूह के कार्यकारी अध्यक्ष संदीप गुप्त ने कहा कि स्वास्थ्य एक ऐसी संपदा है जिसकी कीमत का एहसास इसे खो देने पर होता है। स्वास्थ्य का सीधा संबंध स्वच्छता से है।

इससे पहले दैनिक जागरण के मुख्य महाप्रबंधक आनंद त्रिपाठी और एसोसिएट एडिटर सदगुरू शरण अवस्थी ने सभी का बुके से स्वागत किया। कार्यक्रम में पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार, पहल के चेयरमैन एसएम शर्मा, आईनेक्सट के सीओओ आलोक सांवल समेत अनेक लोग उपस्थित रहे।

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Stentorian voice, cleanliness religion(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

राजाराम ने 7 पहाड़ काट बनाई 40 किमी लंबी सड़कएमएलए के लिए आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेंगे केजरीवाल
यह भी देखें